क्रिकेट के मैदान से अच्छी खबर, खटीमा के विजय जेठी ने उत्तराखण्ड को हार से बचाया

हल्द्वानी: रणजी सीजन 2019/2020 में उत्तराखण्ड को पहला अंक हासिल हो गया है। टीम त्रिपुरा के खिलाफ मुकाबला ड्रॉ करने में कामयाब रही। पहली पारी के बढ़त के आधार पर त्रिपुरा को 3 अंक मिले और उत्तराखण्ड को एक अंक मिला। लगातार हार का सामना कर रही उत्तराखण्ड के लिए ये मैच किसी करिश्मे से कम नहीं रहा। पहली पारी में 90 रनों पर आउट होने वाली उत्तराखण्ड ने दूसरी पारी में 148 रन तो बनाए लेकिन 8 विकेट खो दिए।

दूसरी पारी में भी उत्तराखण्ड ने 35 रन पर पांच विकेट खो दिए थे। दिन के अंतिम ओवर तक उत्तराखण्ड हार के करीब था लेकिन खटीमा निवासी विजय जेठी की नाबाद 81 रनों की पारी ने टीम की हार टाल थी। उन्होंने 139 गेंदों का सामना किया। छठे विकेट के लिए विजय और राहिल शाह ने 108 रन जोड़कर टीम को संकट से उभारा और ड्रॉ की उम्मीद दी। राहिल ने 90 गेंद पर 23 बनाए। राहिल के आउट होने के बाद विजय ने जिम्मेदारी उठाई और टीम को एक अंक दिलाकर ही वापस लौटे।

इससे पहले उत्तराखण्ड के 90 रनों के जवाब में त्रिपुरा ने 5 विकेट के नुकसान पर 279 रन बनाए। त्रिपुरा की ओर से हरमीत सिंह ने 102 रन की पारी खेली। इसके अलावा एसएम सिंघा 58 और आरए डे ने 54 रनों का योगदान दिया। उत्तराखण्ड की ओर गेंदबाजी में दिक्षांशु नेगी ने 2 विकेट हासिल किए। पहली पारी में उत्तराखण्ड के 9 बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा पार नहीं कर पाए थे। वही दूसरी पारी में ये नंबर 7 रहा। विजय की पारी ने टीम को हार से बचा लिया लेकिन बल्लेबाजों के प्रदर्शन ने सभी को निराश किया है।

इस मुकाबले में उत्तराखण्ड को मौसम का साथ भी मिला है नहीं तो नतीजा कुछ और हो सकता था। उत्तराखण्ड के पास अभी 4 मुकाबले और शेष है। टीम की कोशिश रहनी चाहिए कि वह निचले स्थान पर रहने से बचे, नहीं तो उसे आने वाले सीजन में दोबारा प्लेट ग्रुप में खेलना पड़ेगा। बता दें कि पिछले सीजन में उत्तराखण्ड ने प्लेट ग्रुप टॉप किया था और उसे इस सीजन में ELITE सी में जगह मिली।