मजबूत इरादों के साथ शुरू होने जा रहा है एसआरएस क्रिकेट एकेडमी का नया सत्र

हल्द्वानी:  क्रिकेट के लिए भारतीयों का जुनून ही अलग है।यह एक ऐसा खेल है जिसे खेलने और देखने वालों की संख्या यहाँ सबसे अधिक है। कोई भी गांव हो या शहर ,गली मोहल्ला, खुले मैदानों में, हर जगह  पर क्रिकेट का खेल ना देखने मिले यह लगभग असंभव ही है। इस खेल ने दुनिया के सामने भारत की साख को मजबूत किया है।  इस खेल में प्रसिद्धि ,ग्लैमर और वैश्विक स्तर पर सम्मान होने के कारण देश की क्रिकेट टीम में चयनित होने का सपना यहाँ करोड़ों य़ुवाओं की आंखों में हर पल तैरता है। ऐसे बहुत से सपनों को वजूद देने के लिए हमारे शहर में भी कई क्रिकेट एकेडमी हैं।जहाँ मजबूत खिलाड़ी बनने के लिए सुबह-शाम एक की जाती हैं।हल्द्वानी में इस खेल को निरंतर बढ़ावा देने और हमेशा एक्टिव रहने वाली क्रीड़ात्मक संस्था, एसआरएस एकेडमी के कोच हरीश सिंह नेगी भी कहते हैं- जितना वक्त मैदान पर दिया जाता है उतना ही गेम आपको रिटर्न करता है लेकिन अहम ये है कि आप मैदान पर करते क्या हैं। और इन विचारों की तरह ही एसआरएस एकेडमी की टीम भी हल्द्वानी के युवा खिलाड़ियों का आधार मजबूत कर रहा है।

हल्द्वानी, एसआरएस एकेडमी कालाढूंगी रोड फतेहपुर पर स्थित एबीएम स्कूल के ही मैदान में संचालित की जाती है। इस एकेडमी में कई वर्षों से बच्चों को क्रिकेट की कोचिंग दी जाती है। हफ्ते भर की प्रैक्टिस के बाद लगभग हर रविवार बच्चों के बीच प्रैक्टिस मैच कराये जाते हैं। साल में दो बार यहाँ एसआरएस कप आयोजित किया जाता है जिसमें ना सिर्फ स्थानीय बल्कि बाहर से भी बच्चे आते हैं ।एबीएम स्कूल में ही संचालित होने के कारण स्कूल के सभी बच्चे क्रिकेट से जुड़े रहते हैं। बच्चों में खेल के प्रति सकारात्मक भावना,के निर्माण में निरन्तर प्रयासरत  एसआरएस एकेडमी की सराहना स्वंय भारत के अंतराष्ट्रीय क्रिकेट खिलाड़ी गौतम गंभीर के कोच संजय भारद्वाज ने भी की है।

संस्था का क्रिकेट के प्रति समर्पण पूर्ण रूप से देश को भावी खिलाड़ी देने के तिए तत्पर है।इस अप्रैल से क्रिकेट प्रेमियों के महापर्व आईपीएल के दैरान नयी ऊर्जा के साथ एसआरएस क्रिकेट एकेडमी का नया सत्र 2019-20 शुरू होने जा रहा हैं। एकेडमी क्रिकेट के प्रति समर्पित बच्चों का पूर्ण रूप से स्वागत करती है।और एकेडमी के हर बच्चे को खेल का मजबूत आधार प्रदान करने का आश्वासन देती है।

 

 

 

 

 

 

 

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now