उत्तराखंड में मानव तस्करी,कुवैत जाने के लिए बनबसा पहुंचीं पांच युवतियां,पुलिस ने पकड़ा

चंपावत: भारत-नेपाल सीमा पर एसएसबी ने मानव तस्करी निरोधक दस्ते (एएचटीयू) कुवैत जा रहीं नेपाल की पांच युवतियों को पकड़ा है। उन्हें नेपाल पुलिस के माध्यम से नेपाली संस्था को सौंप दिया। यह भी सामने आया है कि नेपाली युवती का नागरिकता कार्ड फर्जी है। एसएसबी ने नेपाल के झापा जिला निवासी रोशनी धिमिरे (28), रोजीना धिमीरे (23), मात्रिका देवी घिमिरे (18), दीपा मिस्त्री (27), जिला मकवानपुर निवासी सुनीता सयागतान (21) को नेपाल पुलिस के सुपुर्द किया। एसएसबी एएचटीयू के उपनिरीक्षक नवीन कुमारी, एचसी गौरीशंकर राठौर, नसीब चंद, शांति पुनर्वास स्थापना गृह सदस्य सनजीत सिंह, कैलाशो राना, नेपाल प्रहरी टीम के रमेश नाथ, मकर खड़का द्वारा इन्हें पकड़ा गया था।

यह भी पढ़े:सैलानी ध्यान दें,मसूरी की माल रोड पर शाम पांच बजे के बाद वाहनों की एंट्री बंद

यह भी पढ़े:दोस्तों के साथ नए साल का जश्न मनाने नोएडा से औली पहुंचे युवक का गोरसों टॉप में मिला शव

जानकारी के अनुसार रविवार को पांच नेपाली युवतियां बनबसा जाने के लिए एसएसबी चेकपोस्ट पर पहुंची। इस दौरान एसएसबी के दस्ते ने संदेह के आधार पर पांचों युवतियों से पूछताछ की। पूछताछ के दौरान उनके बयान कुछ शक पैदा करने लगे तो एसएसबी के दस्ते को मानव तस्करी की आशंका हुई। इसके बाद एसएसबी ने नेपाल पुलिस, गड्डाचौकी स्थित शांति पुनर्वास स्थापना गृह नामक संस्था को मामले की पूरी जानकारी दी। फिर संयुक्त रूप से की गई पूछताछ में एक युवती काफी घबरा गई।

उन्होंने पुलिस को जानकारी दी कि नेपाल से दिल्ली जाने के लिए बनबसा पहुंची थी। एसएसबी 57वीं वाहिनी की बनबसा स्थित ई कंपनी की प्रभारी असिस्टेंट कमांडेंट तन्वी शुक्ला ने बताया कि युवतियों से तीन नेपाली नागरिकता प्रमाणपत्र, एक भारतीय आधार कार्ड, एक जन्म प्रमाणपत्र और नेपाल के दो पासपोर्ट मिले हैं। उन्होंने बताया कि रोशनी नाम की युवती दो वर्ष पूर्व कुवैत जा चुकी है। उसके पासपोर्ट पर सऊदी अरब का वीजा लगा है। वह अपने साथ अन्य चार युवतियों को कुवैत ले जा रही थी।

यह भी पढ़े:उत्तराखंड:डाक सेवा बस के अचानक फेल हुए ब्रेक, चालक की सूझबूझ से टला बड़ा हादसा

यह भी पढ़े:उत्तराखंड के युवा हर क्षेत्र में अव्वल,बागेश्वर मुकेश ने UKPSC परीक्षा में किया पहला स्थान हासिल

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now