उत्तराखंड:चार्ज संभालने के 15 घंटों बाद हुआ CO का ट्रांसफर, विवाद पैदा कर रहा है कारण

हरिद्वार: पुलिस कार्यो में बढ़ती राजनीतिक दखलंदाजी चिंता का विषय है। अपने आकाओं की सरपरस्ती के चलते मातहत अपने उच्चाधिकारियों की बातें भी नहीं सुन रहे हैं। हाल यह है कि अब मुकदमे दर्ज करना न करना अधिकारी नहीं बल्कि राजनेता तय करने लगे हैं। समझा जा सकता है कि जिस पुलिस पर पूरे प्रदेश के अधिकारियों की सुरक्षा का जिम्मा है वह खुद कितनी असहाय साबित हो रही है। यदि पुलिस राजनेताओं के इशारों पर ही चलने लगेगी तो फिर इससे पारदर्शिता की क्या उम्मीद की जा सकती है।

यह भी पढ़े:कोरोना संक्रमण के नए स्ट्रेन के बढ़ते मामलों के बाद ब्रिटेन में लगा लॉकडाउन

यह भी पढ़े:उत्तराखंड BJP विधायक का बयान, सिसोदिया इस लायक नहीं कि उनकी बात का जवाब दिया जाए

ताजा मामला उत्तराखंड के हरिद्वार जनपद से सामने आ रहा है, यहां नवनियुक्त सीओ को कार्यभार संभाले अभी एक दिन भी नहीं गुजरा था कि मात्र 15 घंटों में ही उनका स्थानांतरण कर दिया गया। बताया जा रहा है कि ट्रांसफर की यह तत्काल कार्यवाही स्थानीय व्यापारी के राजनीतिक हस्तक्षेप के कारण हुआ है। हालांकि इसकी पुष्टि नहीं हुई है।

मगर चर्चाएं यह व्यापत है कि स्थानीय व्यापारी से आपसी मतभेद के चलते उनका तत्काल ट्रांसफर हुआ है। बता दें कि सीओ के तत्काल ट्रांसफर पर क्षेत्र में तरह तरह की बातें बनाई जा रही है। वहीं इन चर्चाओं का बाजार गरम है। बताया यह भी जा उक्त थाने में इंस्पेक्टर पर तैनाती के दौरान सीओ बीएस चौहान का किसी स्थानीय व्यापारी से मतभेद हो गया था। जिस कारण राजनीतिक प्रभाव के चलते उनका स्थानांतरण किया गया है।

यह भी पढ़े:उत्तराखंड से विदेश पहुंचेंगी खादी, ऑनलाइन बिक्री शुरू, 50 हजार होगी लिमिट

यह भी पढ़े:उत्तराखंड में मानव तस्करी,कुवैत जाने के लिए बनबसा पहुंचीं पांच युवतियां,पुलिस ने पकड़ा

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now