नैनीताल की सुरक्षा हेतु डीएम सविन बंसल का प्लान, होटलों व पर्यटकों को फॉलो करना होगा

नैनीताल की सुरक्षा हेतु डीएम सविन बंसल का प्लान, होटलों व पर्यटकों को फॉलो करना होगा

नैनीताल: पर्यटको को दी गई छूट के दृष्टिगत कोविड-19 संक्रमण की रोकथाम हेतु डीएम सविन बंसल लगातार प्लान बना रहे हैं। उनके प्राप्त निर्देशों के क्रम मे जिला प्रशासन व होटल एसोसिएशन के मध्य शनिवार को एक महत्वपूर्ण बैठक की। बैठक उप जिलाधिकारी विनोद कुमार की अध्यक्षता में हुई। बैठक में होटल एसोसिएशन द्वारा सहमति व्यक्त की गयी कि प्रत्येक होटल द्वारा कोविड-19 से सम्बन्धित दिशा-निर्देशों का अनुपालन किया जायेगा। पर्यटकों को कोरोना की रोकथाम व दिशा-निर्देशों से सम्बन्धित विवरिणा उपलब्ध करायी जायेगी। होटलों द्वारा कोरोना संदिग्ध व्यक्तियों के बारे में तत्काल जिला प्रशासन को अवगत कराया जायेगा। पढ़ना जारी रखें…

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड के लिए राहत, रिकवरी रेट 80 प्रतिशत से ऊपर, अपने जिले का हाल देखें

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में भी अनलॉक-5 की गाइडलाइन जारी, शादी समारोह के लिए मिली बड़ी छूट

होटलों में कार्य करने वाले कार्मिको की समय-समय पर रेण्डमली कोरोना जांच हेतु भी सहमति व्यक्त की गयी। एसोसिएशन की मांग पर कोविड-19 सम्बन्धी सूचनाओं के त्वरित गति से आदान प्रदान एवं नियमों के अनुपालन हेतु कोर्डिनेशन कमेटी का गठन किया गया जोकि प्रत्येक 15 दिन (पाक्षिक) कोर्डिनेशन बैठक आयोजित करेगी। इसके साथ ही सूचनाओं के त्वरित गति से आदान प्रदान हेतु एसोसिएशन व पुलिस प्रशासन का एक व्हाट्सएप ग्रुप बनाया गया। एसोसिएशन द्वारा मांग की गयी कि पर्यटन सीजन एवं वीकेण्ड पर मुख्य मार्गों को बन्द न किया जाये ताकि पर्यटके आवागमन में किसी भी प्रकार की समस्या न होने के साथ ही जाम की स्थिति भी उत्पन्न न हो। पढ़ना जारी रखें…

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी शर्मसार,चार हजार के लिए युवक के साथ कुकर्म, प्राइवेट पार्ट में डाली रॉड, दो अरेस्ट

यह भी पढ़ें: अल्मोड़ा की नीमा भगत दिल्ली में बनी प्रदेश मंत्री, पूर्वी दिल्ली की मेयर भी रह चुकी हैं

बैठक में उप जिलाधिकारी विनोद कुमार ने होटल एसोसिएशन को कोविड-19 से सम्बन्धित दिशा-निर्देशों के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि होटल में आने वाले प्रत्येक पर्यटक की थर्मल स्कैनिंग, मास्क का उपयोग, सोशल डिस्टेंसिंग, आरोग्य सेतु एप डाउनलोड होना तथा निर्धारित वेबसाइट पर पंजीकरण होना अनिवार्य है। कोविड-19 से सम्बन्धित नियमों के अनुपालन हेतु एक कमेटी का गठन किया गया जोकि समय-समय पर होटलों का औचक निरीक्षण करेंगी। पढ़ना जारी रखें…

यह भी पढ़ें: पिथौरागढ़ में DM, SDM व CDO हुए कोरोना संक्रमित, 3 दिन बंद रहेगा जिला मुख्यालय

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी बेस हॉस्पिटल की बदली हालत से CM हुए खुश, बोले Well done डीएम सविन

कमेटी में उप जिलाधिकारी, पुलिस उपाधीक्षक, जिला पर्यटन विकास अधिकारी, खाद्य सुरक्षा अधिकारी के साथ ही होटल एसोसिएशन के दो पदाधिकारियों को शामिल किया गया। उन्होंने कहा कि प्रत्येक होटल में रेट लिस्ट चस्पा होनी अनिवार्य है ताकि पर्यटकों को रेट के बारे में पता हो। खाद्य सुरक्षा अधिकारी को निर्देश दिए कि होटल एवं रेस्टोरेंट के साथ समन्वय करते हुए कूकिंग स्टाफ के साथ ही अन्य स्टाफ को कोरोना संक्रमण के प्रसार को रोकने हेतु प्रशिक्षित एवं जागरूक करें। उन्होंने अधिशासी अधिकारी नगर पालिका को निर्देश दिए कि शहर के मुख्य चैराहों, भीड़ वाले सार्वजनिक स्थानों पर कोरोना संक्रमण से बचाव हेतु जन जागरूकता से सम्बन्धित होर्डिंग एवं फ्लैक्सी बोर्ड लगाना सुनिश्चित करें। पढ़ना जारी रखें…

बैठक में जिला पर्यटन विकास अधिकारी अरविन्द गौड़ ने बताया कि वर्तमान में होटल पंजीकरण की सुविधा प्रदान की जा रही है। जो भी होटल पर्यटन विभाग में पंजीकृत नहीं हैं, वे जल्द से जल्द पंजीकरण करवा लें अन्यथा गैर पंजीकृत होटलों के विरूद्ध नियमानुसार कार्यवाही अमल में लायी जायेगी। बैठक में अध्यक्ष होटल एसोसियेशन नैनीताल दिनेश साह के साथ ही वेद साह, आलोक साह, दिग्विजय बिष्ट के अलावा सीओ विजय थापा, अधिशासी अधिकारी अशोक कुमार वर्मा, जिला पर्यटन विकास अधिकारी अरविंद गौड, वरिष्ठ खाद्य अभिहीत अधिकारी अश्वनी सिंह, कोतवाल मल्लीताल अशोक कुमार, थाना अध्यक्ष तल्लीताल विजय मेहता आदि उपस्थित थे।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now