अल्मोड़ा: राज्य में नशा तेजी से अपने पैर पसार रहा है। पहाड़ी इलाकों से चरस और गांजा मैदानी क्षेत्रों में जा रहा है। वहीं स्मैक मैदानी इलाकों से पहाड़ी क्षेत्रों में आ रही है। कुमाऊं के विभिन्न जिलों में पुलिस द्वारा नशे के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है। पुलिस को लगातार कामयाबी मिल रही है लेकिन इसके बाद भी तस्करी कम नही हो रही है। अब तस्करी करने के लिए महिलाओं का सहारा भी लिया जा रहा है। अल्मोड़ा से रामनगर की ओर आ रही बस में पुलिस ने चैकिंग के दौरान दो युवतियों को पकड़ा है। युवतियों के पास 12 किलो गांजा मिला है। एक युवती काशीपुर की फैक्ट्री में काम करती है तो दूसरी बीए की छात्रा है।

जानकारी के अनुसार अल्मोड़ा जिले की भतरौंजखान पुलिस ने युवतियों को गिरफ्तार किया है। हल्दुखाल-धूमाकोट से रामनगर की ओर जा रही बस की पुलिस ने चेकिंग की। इस दौरान युवतियों के पास से 12 किलो से ज्यादा गांजा बरामद किया गया। पुलिस ने दोनों को गिरफ्तार कर एनडीपीएस एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कर लिया है। बरामद गांजे की कीमत 51 हजार रुपए बताई जा रही है। पुलिस को जानकारी मिली है कि दोनों युवतियां धूमाकोट से बस में सवार हुई थीं। पुलिस ने जब दोनों युवतियों से पूछताछ की तो उन्होंने बताया कि दो लड़कों ने उनको यह बैग दिए हैं। इसके बाद लड़के गायब हो गए। पुलिस फिलहाल मामले की जांच में जुटी हुई है। पुलिस ने दोनों को हिरासत में ले लिया है।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now