BCCI से बिना अनुमति पाकिस्तानी क्रिकेटर्स के साथ खेलना अनुज रावत को पड़ सकता है महंगा

भारतीय अंडर-19 टीम के कप्तान व दिल्ली रणजी टीम के सदस्य अनुज रावत की प्रतिभा को देश देख रहा है। अनुज को भारतीय क्रिकेट का भविष्य कहा जाता है। उन्होंने अपने पहले रणजी सीजन में ये साबित भी किया है। अपने प्रदर्शन से खबरों में रहने वाले अनुज रावत इस बार विवाद के चलते खबरों में है। उनके ऊपर बिना बीसीसीआई की अनुमति से पिछले साल मॉरिशस में गैरमान्यता प्राप्त टी20 लीग में क्रिकेट खेलने का आरोप है। इस लीग में पाकिस्तान के खिलाड़ियों ने भी भाग लिया था। बता दें कि इस टूर्नामेंट का आयोजन पिछले साल जून में किया गया था।

अनुज ने इसमें प्रथम श्रेणी के कुछ मैच खेलने वाले असद पठान जैसे खिलाड़ियों के साथ हिस्सा लिया था। जानकारी दे दी बाहर देशों की लीग में भाग लेने के लिए खिलाड़ियों को बीसीसीआई ने अनुमति लेनी होती है। लेकिन मॉरिशस में 60 दिन से कम की यात्रा करने वाले भारतीय नागरिकों को वीजा की जरूरत नहीं होती है।

इस नियम के कारण खिलाड़ियों ने बीसीसीआई से अनुमति नहीं मांगी. इस टूर्नामेंट के लिए अंडर 19 विश्व कप के स्टार खिलाड़ी मंजोत कालरा ने बीसीसीआई से अनुमाति मांगी थी लेकिन उन्होंने उसे मना कर दिया गया था। ये बात एक वीडियो के जरिए सामने आई, यह वीडियो यूट्यूब पर है, जिसमें अनुज पाकिस्तान के हसन रजा भी दिख रहे हैं जो अल जजीरा के एक स्टिंग में फंसे थे।

बीसीसीआई के कार्यवाहक सचिव अमिताभ चौधरी को भी यह जानकर आश्चर्य हुआ कि कुछ खिलाड़ियों ने बिना अनुमति के किसी टूर्नामेंट में खेला है।चौधरी ने कहा, ‘आयु वर्ग के खिलाड़ियों को राष्ट्रीय स्तर पर बीसीसीआई द्वारा शिक्षित किया जाता है. यह बहुत दुर्भाग्यपूर्ण है कि जूनियर खिलाड़ी ऐसे टूर्नामेंट में खेले हैं। इसे गंभीरता से देखा जाना चाहिए। बीसीसीआई अब मामले की जांच करेगा और अगर अनुज दोषी पाए जाते हैं तो उनके ऊपर सख्त कार्रवाई की सा सकती है।