पिथौरागढ़ में भारी बारिश के कारण चीन सीमा से संपर्क टूटा, उत्तरकाशी में चालक गायब

बीती रात भारी बारिश से बदरीनाथ हाईवे कई जगह पर मलबा आने से बंद हो गया है। हाईवे लामबगड़, पागलनाला, गुलाबकोटी, भनेरपानी और तोताघाटी में बंद हो गया था।

पिथौरागढ़: भारी बारिश ने उत्तराखंड के सीमांत जिले पिथौरागढ़ में खूब तबाही मचाई हुई है। शुक्रवार को भरी बारिश से घरों में पानी घुस गया। मुनस्यारी में रातभर इतनी तेज बारिश हुई कि ग्रामीण खौफ में सोए नहीं। रथी गांव में बरसाती नाले का पानी घरों में घुस गया। ढीलम, जौल ढुंगा, धापा, राथी बलसनकोट, सेरा कैठी, सेवला आदि गांवों के लोगों के घरों को बारिश से काफी नुकसान पहुंचा है। यहां बारिश से मुनस्यारी, दरकोट, मदकोट, पिथौरागढ़ को जोड़ने वाली सड़क बह गई है। इसी मार्ग से धापा के पास मिलम होते हुए चीन सीमा से लगे गांवों तक जाया जाता है। बारिश से चीन सीमा तक का संपर्क टूट गया है।

वही उत्तरकाशी में भैरोंघाटी से भारत-चीन सीमा की ओर जाने वाली सड़क पर भूस्खलन की चपेट में आने से बीआरओ का एक टिपर वाहन गहरी खाई में जा गिरा। सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची एसडीआरएफ एवं पुलिस की टीम रेस्क्यू अभियान में जुटी हैं। वाहन में सिर्फ चालक ही सवार था। देर शाम तक उसका कुछ पता नहीं चल पाया। गंगोत्री से आठ किमी पहले भैरोंघाटी से भारत-चीन सीमा पर स्थित अग्रिम चौकियों के लिए सड़कों का निर्माण चल रहा है। भैरोंघाटी से नेलांग के बीच बीआरओ की ओर से सड़क को दुरुस्त कराया जा रहा है।

बीती रात भारी बारिश से बदरीनाथ हाईवे कई जगह पर मलबा आने से बंद हो गया है। हाईवे लामबगड़, पागलनाला, गुलाबकोटी, भनेरपानी और तोताघाटी में बंद हो गया था।

आपको बता दें की आज भी प्रदेश में कई जगह भारी बारिश होने के आसार है। मौसम विभाग के अनुसार देहरादून, पौड़ी, हरिद्वार, नैनीताल, चंपावत, अल्मोड़ा और ऊधमसिंह नगर जिलों में ज्यादातर स्थानों पर हल्की बारिश हो सकती है।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now