रिजल्ट देखने से पहले खेत में गेहूं काट रही थी यूपी 12th बोर्ड की टॉपर ‘तनु तोमर ‘

नई दिल्ली :कोई भी सपना जादू से पूरा नहीं होता, उसे पूरा करने के लिए पसीना बहाना होता है और साथ ही चाहिए दृढ संकल्प और कठिन परिश्रम । इस बात को मेहनत के रास्ते पर चलने वालों ने कई बार सच कर दिखाया है। रविवार 27 अप्रैल को 10वीं और 12वीं यूपी बोर्ड का रिसल्ट बाहर आया तो कई बच्चों ने खुद को मिसाल के रूप में स्थापित कर दिखाया है ।इस बार 12वीं की परीक्षा में बागपत की तनु तोमर ने टॉप किया है ।फतेहपुर पुट्ठी से श्रीराम शिक्षा मंदिर इंटर कॉलेज की छात्रा तनु को 98% अंक हासिल हुए है।

तनु तोमर ने इस वाक्ये को सच कर दिखाया है कि जब एक बार आप पूरे निश्चय के साथ कोई निर्णय लेते हैं तो पूरा ब्रह्माण्ड उसे पूरा करने के लिए साजिश रचने लगता है। रिजल्ट आने से पहले तनु तोमर अपने खेतों में गेंहू की कटाई करा रहीं थी।तनु को जब पता चला कि उन्होंने अपने प्रदेश में टॉप किया है तो वो भावुक हो गई और उनकी आंखों से आंसू छलक पड़े। उनका मानना है कि अगर सरकार बेटियों की सुरक्षा करें तो वो आसमान से तारे भी तोड़ कर ला सकती हैं।
तनु के टॉप करने पर उनका पूरा परिवार बेहद खुश है। तनु का मानना है कि सफलता के लिए सबसे जरूरी है लक्ष्य को तय करना साथ ही उसे हासिल करने के लिए आखिरी दम तक लड़ना। तनु का स्कूल उनके घर से 7 किमी दूर है। ऐसे में उन्हें स्कूल आने जाने में काफी समय लगता था, जिसकी वजह से उनका काफी समय यूहीं बीत जाता था। तनु मानती है कि किसी भी चीज को पाने के लिए अनुशासन और समय का पालन करना बेहद जरूरी है। पढ़ाई में किसी तरह की कोई कमी ना रह जाए इसलिए उन्होंने कोचिंग नहीं बल्कि स्कूल में ही एकस्ट्रा क्लास ली।

वो कहते है ना कि प्रसन्नता, हमारे मष्तिष्क की ही प्रवृति है जो कि हर परिस्थिति में खुश रहने के दृढ संकल्प से पैदा होती है।तनु भी सफलता का मूलमंत्र संकल्प और मेहनत को मानती हैं। ऐसे में उन्हें सभी का सहयोग मिलता गया। तनु के मुताबिक कई बार गांव में लाइट नहीं रहती थी जिसकी वजह से इंनवर्टर भी डाउन हो जाता था। इसके लिए उन्होंने लैंप की रोशनी में रहकर पढ़ाई की, जिससे उनकी पढ़ाई में किसी तरह की कोई परेशानी ना हो। तनु डॉक्टर बनना चाहती हैं उनका मनाना है कि डॉक्टर ही एक ऐसी सेवा है जो समाज की सबसे ज्यादा सेवा करते हैं।

तनु अपने सपने को लेकर आगे भी मेहनत जारी रखेंगी। इसके अलावा बेटी की इस जीत से सभी काफी खुश हैं। उनके पिता हरेंद्र सिंह का मानना है कि सभी लोगों को अपनी बेटियों को आगे बढ़ाने में मदद करनी चाहिए। आप दुनिया को कैसे देखते हैं, सर्वप्रथम इसी से आपका रवैया निर्धारित होता है और उसके बाद आपका रवैया ही ये निर्धारित करता है कि ये दुनिया आपको कैसे देखेगी ,यही सोच रखने वाले तनु के पिता को तनु पर नाज है।इस खुशी के मौके पर उनके स्कूल में ढोल बाजे बजवाए गए ।|और गाँव में मिठाई बांटी गयी।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now