Uttarakhand News

उत्तराखंड: सरकारी कर्मी ने हड़पे करीब 32 लाख रुपए, रिश्तेदारों को बांट दिए


देहरादून: सरकारी विभागों में कार्यरत लोगों की जिम्मेदारी बहुत अधिक इसलिए बढ़ जाती है क्योंकि उनपर पूरे प्रदेश की आर्थिकी टिकी होती है। इस बार लोक निर्माण विभाग के लैंसडौन कार्यालय में तैनात कनिष्ठ सहायक को करीब 32 लाख रुपए गबन करने के आरोप में गिरफ्तार किया गया है।

कोतवाल लैंसडौन मणीभूषण श्रीवास्तव ने पूरे मामले पर जानकारी दी। उन्होंने बताया कि छह अगस्त 2022 को लोनिवि के प्रांतीय लोक अधिशासी अभियंता प्रेम सिंह बिष्ट ने कोतवाली में तहरीर देकर ठेकेदारों की 10 प्रतिशत धरोहर राशि के गबन होने की शिकायत की थी।

मुकदमा दर्ज होने के बाद जांच हुई तो पता चला कि लोनिवि लैंसडौन कार्यालय में तैनात कनिष्ठ सहायक आरोपी प्रमेंद्र सिंह ने देयक बाउचर्स की ऑनलाइन फीडिंग व डिपोजिट कार्य के समय पंजीकृत ठेकेदारों की 10 प्रतिशत धरोहर धनराशि 31,75,096 रुपए गबन किए हैं।

आरोपी वे अपने रिश्तेदारों व परिचितों के बैंक खातों में ये धनराशि ट्रांसफर कर दी है। आरोपी को बिना वारंट गिरफ्तारी का नोटिस जारी हुआ और बीती शाम उसे गांधी चौक टैक्सी स्टैंड से गिरफ्तार किया है। आरोपी प्रमेंद्र सिंह रावत पीडब्लूडी कॉलोनी लैंसडौन जबकि मूल रूप से ग्राम निलारा पोस्ट चोरखाल, पट्टी कपोलस्यूं तहसील पौड़ी का रहने वाला है।

To Top
Ad