पूनम हत्याकांड हल्द्वानी: शक के घेरे में परिवार वाले,हत्यारों को ऐसे पकड़ेगी पुलिस

2730

हल्द्वानी: 27 अगस्त को बरेली रोड गोरापड़ाव हत्याकांड में पुलिस के हाथ अभी खाली है। पूनम पांडे के हत्यारों को पकड़ने के लिए पुलिस सभी पहलूओं में काम कर रही है। मामले में कई चीजे सामने तो आई लेकिन वो किसी से मिल नहीं है। पुलिस ने हत्यारों तक पहुंचने के लिए कई लोगों से पूछताछ भी की थी। पुलिस को अभी भी शक है कि इस हत्याकांड के पीछे अपनो का भी हाथ हो सकता है, वहीं घटना के दिन घायल हुई पूनम पांडे की बेटी के बदलते बयान ने पुलिस असमंजस में डाला हुआ है। मामले के राज तक पहुंचने के लिए पुलिस लाई डिटेक्टर टेस्ट करा सकती है। एसएसपी जन्मजेय खंडूरी ने लाई डिटेक्टर टेस्ट के प्रयोग की बात के संकेत दिए है।

शनिवार को एडीजी अशोक कुमार ने मृत महिला की बेटी से करीब 40 मिनट पूछताछ की। पूछताछ में महिला की बेटी अपने बयान बदलती रही। एडीजी ने भी माना कि महिला का कोई अपना नजदीकी हत्याकांड में शामिल है।

इस हत्याकांड में एडीजी ने यह भी कहा कि अब तक पुलिस के हाथ कुछ ठोस सुबूत नहीं हैं। बेटी के बदलते बयानों के बाद पुलिस की शक की सुई अपनों पर घूम गई है।वहीं सामने आ रहा है कि अपने शक को दूर करने के लिए पुलिस कुछ लोगों का लाई डिक्टेक्टर टेस्ट भी कराया जा सकता है।इसके बाद हत्याकांड में का खुलासा होने की उम्मीद है।हत्याकांड के खुलासे को लेकर पुलिस कुछ लाइनों पर काम कर रही है। अगर जरूरत पड़ी तो इस मामले में कुछ लोगों का लाई डिटेक्टर टेस्ट कराया जा सकता है।