हल्द्वानी: केंद्र सरकार के खिलाफ कांग्रेस का अनोखा विरोध, गैस सिलेंडर को श्रद्धांजलि

हल्द्वानी: पिछले कुछ वक्त से पेट्रोल और गैस के दाम लगातार बढ़ रहे हैं। पूरे देश में केंद्र सरकार को विरोध का सामना करना पड़ रहा है लेकिन उसने साफ किया कि महंगाई उनके हाथ में नहीं है। बढ़ती महंगाई पर विपक्ष ने शहर में एक बार फिर सरकार को घेरा है। हल्द्वानी में कांग्रेस ने अनोखे तरीके से भाजपा का विरोध किया। रसोई गैस के बढ़ते दामों के विरोध में कांग्रेसियों ने हल्द्वानी तिनोकिया स्थित बुद्ध पार्क में गैस सिलेंडर की अलग-अलग कीमतों के साथ विरोध किया।

कांग्रेस नेता हेमंत साहू ने गैस सिलेंडर को श्रद्धांजलि देकर दो मिनट का मौन ऱखा।साहू ने कांग्रेस शासन से लेकर अब तक गैस की बढ़ी हुई कीमतों का हवाला दिया। उन्होंने कहा कि केंद्र में पहुंते वक्त पीएम नरेंद्र मोदी ने अच्छे दिन आने की बात कही थी लेकिन अच्छे दिन की बजाय लोग चूल्हे में खाना बनाने को मजबूर हो रहे हैं। कांग्रेसियों ने तत्काल बढ़े हुए दामों को वापस लेने की करी मांग। वहीं कांग्रेसियों ने सरकार पर जनता को धोखा देने का भी आरोप लगाया। जिस महंगाई को लेकर भाजपा चुनाव जीती अब वो उसे कन्ट्रोल करने में नाकामयाब है। यह भाजपा कि बेकार नीतियों को सामने रखती है। उन्होंने कहा कि सरकार को आइना जनता ही दिखाएगी ,जिसके साथ उसने छल किया है।यह सरकार अपने लोगों को फायदा पहुंचाने के लिए जनता का इस्तेमाल कर रही है।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने केंद्र की मोदी सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया, प्रदर्शन करने वाले लोगो ने गैस सिलिंडर को श्रद्धांजलि देकर लकड़ी का चूल्हा जलाकर अपना विरोध जताते हुए गैस के बढ़ी कीमते वापस लेने की मांग की।उनके मुताबिक 2014 में तत्कालीन कांग्रेस सरकार के दौरान गैस सिलिंडर की कीमत 350 रुपये थी जबकि आज गैस ने 900 रुपये को छू लिया है। मोदी सरकार को हिटलर की तानाशाही का नाम देकर विरोध जताते हुए कहा की गरीबों का शोषण बंद किया जाए, और यदि रसोई गैस की बढ़ती कीमते वापस और महँगाई कम नही होती तो 2019 के लोकसभा चुनावों में केंद्र की मोदी सरकार को सबक सिखाने का काम किया जाएगा क्योंकि मोदी सरकार ने गरीबो की कमर को तोड़ने का काम किया है