उत्तराखंड में भारी बारिश और बर्फबारी की प्रशासन ने दी चेतावनी, लिस्ट में है नैनीताल

हल्द्वानीः उत्तराखंड प्रदेश में ठंड बढ़ती ही जा रही है। जिसके बाद अब ये ठंड कहर बनती जा रही है। पहाड़ी इलाकों में रहने वाले लोग अब परेशानी का सामना कर रहे है। पिछले कई हफ्तों से लगातार बर्फबारी और बारिश हो रही है। जिससे कई इलाकों में परेशानियां रुकने का नाम नहीं ले रही है। जिसके बाद कई स्थानों में रेड अलर्ड घोषित करना पड़ा है।उत्तराखंड में अब फिर से भारी बारिश और बर्फबारी होने की संभावना बताई जा रही है। जिसके लिए 6 ओर 7 फरवरी को फिर से रेड़ अलर्ड घोषित कर दिया गया। मौसम विभाग के अनुसार बुधवार सुबह से प्रदेश के ज्यादातर क्षेत्रों में बादल छाए रहने की उमीद जताई जा रही है। साथ ही मौसम विज्ञान केंद्र ने सात फरवरी को मसूरी, चकराता, धनोल्टी, मुक्तेश्वर, नई टिहरी और नैनीताल में भारी हिमपात की चेतावनी जारी करी जा रही है। मौसम विभाग ने 2500 मीटर या उस से अधिक ऊंचाई वाले इलाकों के लिये रेड अलर्ट भी जारी किया है। जिसके बाद जिला प्रशासन ने उचित कदम उठाते हुए गाइडलाइन जारी करी है। वहीं, आठ फरवरी को भी मसूरी, नई टिहरी, धनोल्टी, नैनीताल और मुक्तेश्वर में बर्फबारी हो सकती है।मौसम विज्ञान केंद्र ने सात फरवरी के लिये रेड अलर्ट जारी किया है। मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह ने बताया कि पर्वतीय इलाकों में भारी से बहुत भारी हिमपात की संभावना है। सभी जिला प्रशासन को अलर्ट भेज दिया गया है। मुनस्यारी के उच्च हिमालयी क्षेत्र के पंचाचूली में मंगलवार की शाम को बर्फवारी देखने को मिली जिसके बाद पंचाचूली के निचले इलाकों में ठंड़ बड़ गई । 6,7 और 8 फरवरी को भारी बारीश की संभावना होने पर प्रशासन ने अधिक ऊचाई वाले क्षेत्रों में पर्यटकों का आवागमन भी बंद करने का फैसला सुना दिया है। साथ ही सड़क पर बर्फ गिरने से रोड़ बंद ना हो इस के लिए पहले से इतजाम कर दिया।