आईपीएस प्रह्लाद नारायण मीणा,जिसने बदल दी रुद्रप्रयाग जिले की ट्रैफिक व्यवस्था

18

देहरादून: पिछले कुछ वक्त में उत्तराखण्ड में कुछ ऐसे अफसरों की तैनाती हुई है जिनकी शब्दकोष में कानून तोड़ने वालोे के लिए कोई जगह नहीं है। ऐसी ही अफसर समाज को एक सकारात्मक व स्वच्छ दिशा में ले जाने का उदाहरण पेश करते है। इसके अलावा उनकी कार्यशैली युवाओं को कानून के रास्ते पर चढ़ने की सीख देती हैं। एक ऐसे ही ऑफिसर हैं रुद्रप्रयाग के पुलिस अधीक्षक आईपीएस प्रह्लाद नारायण मीणा।

आईपीएस प्रह्लाद नारायण मीणा की कार्यशैली उनके पद संभालने के पहले ही दिन से वायरल हो गई। उन्होंने सरकारी एवं गैर-सरकारी वाहनों से विभागीय नाम पट्टिका हटाये जाने सम्बन्धी उच्च न्यायालय के आदेश पर एक्शन किया। इसके अलावा सड़क पर ट्रैफिक नियम को फलो ना करने वालों को भी उसके सख्त एक्शन से गुजरना पड़ रहा है। वहीं शहर के मुख्य मार्गों पर वाहन पार्किंग कर अतिक्रमण पैदा करने वालों पर भी उन्होंने शिकंजा कसा है।। उनके द्वारा अन्य विभागों से भी समय-समय पर सरकारी वाहनों, पदनाम व अन्य चीजों का दुरुपयोग न करने के सम्बन्ध में आग्रह किया गया।