राष्ट्रमंडल शतरंज चैंपियनशिप में देश का प्रतिनिधित्व कर हरमिंदर ने बढ़ाया देवभूमि का मान

30

नैनीताल: जिले को एक बार फिर युवा के प्रदर्शन ने गौरवान्वित महसूस कराया है। नैनीताल बिड़ला विद्या मंदिर के छात्र हरमिंदर बहादुर सिंह ने कॉमनवेल्थ यानी राष्ट्रमंडल शतरंज चैंपियनशिप 2018 में भारत का प्रतिनिधित्व कर विद्यालय के साथ उत्तराखण्ड का नाम भी रोशन किया है। उनकी इस कामयाबी ने एक बार फिर राज्य में बढ़ते खेल स्तर का परिचय दिया है। बता दे कि हरमिंदर बहादुर सिंह ने 26 जून से 3 जुलाई तक नई दिल्ली के लीला एंबिएंस कन्वेंसन होटल में में आयोजित अंडर 18 श्रेणी में ओपन चौंपियनशिप में भाग लिया था। उन्होंने 7 राउंड खेल कर विश्व में 23वां स्थान हासिल किया। इस शानदार प्रदर्शन के अलावा उन्होंने एशियन चेस चैंपियनशिप वर्ल्ड यूथ चेस चैंपियनशिप और वर्ल्ड चेस ओलिंपियाड के लिए भी क्वालीफाई कर खुशी को दोगुना कर दिया है। उनकी इस कामयाबी के बाद से स्कूल परिसर में खासा खुशी का माहौल है। बता दें कि इस टूर्नामेंट में कुल  41 राष्ट्रमंडल देशों ने भाग लिया।

छोटी उम्र में  हरमिंदर बहादुर सिंह की बढ़ी उपलब्धि पर बिड़ला विद्या मंदिर नैनीताल की चेयरपर्सन जय श्री मेहता, निदेशक सूरज अग्रवाल, स्कूल के प्रधानाचार्य अनिल कुमार शर्मा आदि ने खुशी जाहिर की है। उन्होंने  हरमिंदर बहादुर सिंह को इसी तरह अपना और स्कूल का नाम रोशन करने की शुभकामनाएं दी। विद्यालय के शतरंज कोच धीरेन्द्र बिष्ट की भी प्रशंसा की। कहा कि हरमिंदर की इस उपलब्धि पर पूरा बिड़ला विद्या मंदिर परिवार स्वयं को गौरवान्वित महसूस कर रहा है। विद्यालय के सभी छात्रों और शिक्षक-शिक्षिकाओं ने भी हरमिंदर को बधाइयां दी और उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की। बुधवार को हरमिंदर की इस उपलब्धि पर विद्यालय में एक सम्मान समारोह का आयोजित किया गया। इस मौके पर प्रधानाचार्य श्री शर्मा ने वर्ष 2018 की आईपीएससी स्कॉलरशिप हरमिंदर को देने की घोषणा की।