हल्द्वानी: भारतीय क्रिकेट टीम नीली जर्सी में किसी भी विपक्षी टीम के लिए खतरनाक साबित हो सकती है। ऐसा हम नहीं रिकॉर्ड बोलता है। सीनियर टीम इंडिया जिस प्रकार से पूरे विश्व में अपना लोहा मनवा रही है, उसी दिशा में जूनियर टीम इंडिया भी निकल पड़ी है। भारतीय-19 टीम ने आर्यन जुयाल की कप्तानी में श्रीलंका को उसी की धरती मे 3-2 से मात दी। भारतीय अंडर-19 टीम की इस सीरीज जीत ने साबित किया है कि क्रिकेट का इस देश में भविष्य उज्जवल है।

भारतीय टीम की इस जीत के बाद उत्तराखण्ड में भी खुशी का मौहाल है क्योंकि राज्य के तीन युवा इस सीरीज का हिस्सा थे। (आर्यन जुयाल, अनुज रावत और आयुष बड़ोनी) हल्द्वानी के आर्यन जुयाल ने अपनी कप्तानी से लोगों को खासा प्रभावित किया है, टीम सीरीज़ में 1-2 से पिछड़ रही थी लेकिन आर्यन ने हार के बाद भी टीम के मनोबल को गिरने नहीं दिया और सीरीज़ जीती।

बतौर बल्लेबाज आर्यन ने 5 मैचों में 109 रन बनाए जो उनकी प्रतिभा के साथ न्याय बिल्कुल नहीं करते हैं लेकिन उन्होंने कप्तानी के मोर्चे पर खरा उतरकर इस कमी को पूरा जरूर किया है। आर्यन ने बतौर विकेटकीपर 12 शिकार किए।

फाइनल मुकाबले में श्रीलंका ने ताइरोने फर्नाडो स्टेडियम में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए नौ विकेट पर 212 रन का स्कोर बनाया, जिसे भारत ने 42.4 ओवर में दो विकेट खोकर हासिल कर लिया। मेजबान टीम के लिए विकेटकीपर बल्लेबाज निरोशन डिकवेला शतक बनाने से चूक गए। उन्होंने 137 गेंदों पर सात चौकों की बदौलत 95 रन बनाए। नोवानिदु फर्नाडो ने 68 गेंदों पर पांच चौके और एक छक्का लगाया तथा 50 रन की पारी खेली। टीम के सात बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा भी नहीं छू सके।

Image result for yashasvi jaiswal

 

भारत की ओर से मोहित जांगड़ा ने 30 रन देकर सर्वाधिक दो विकेट लिए। इसके अलावा अजय देव गौड़, सिद्वार्थ देसाई, हर्ष त्यागी, आयुष बदौनी और समीर चौधरी को एक-एक विकेट मिला।  लक्ष्य का पीछा करने उतरी भारतीय टीम के बल्लेबाजों ने शानदार प्रदर्शन किया। सलामी बल्लेबाज यशस्वी जायसवाल (नाबाद 114) के शानदार शतक जमाया। जायसवाल ने 128 गेंदों पर आठ चौके और तीन छक्के लगाए।

इसके अलावा देवदत्त पडिकल ने 48 गेंदों पर छह चौकों की मदद से 38 और पवन शाह ने 45 गेंदों पर तीन चौकों और एक छक्के सहारे 36 रन का योगदान दिया। कप्तान आर्यन जुयाल ने नाबाद 22 रन बनाए। श्रीलंका के लिए लक्षिता मानसिंगे और अविस्का लक्षण को एक-एक विकेट मिला।

 

image source-thepapare.com