उत्तराखंड के बॉर्डर्स पर और बसों में शुरू हुई रैंडम कोरोना टेस्टिंग, बढ़ते संक्रमण से स्वास्थ्य विभाग सचेत

राज्य में शनिवार को कोरोना के 585 नए मरीज मिले जबकि आठ संक्रमितों की मौत हुई।

हल्द्वानी: दीपावली के बाद से हाल में उत्तराखंड में कोविड के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। जिसके बाद उत्तराखंड सरकार ने बॉर्डर्स पर भी कोरोना टेस्ट अनिवार्य कर दिए हैं। लगातार बढ़ रहे संक्रमण के मामले यह बताने के लिए काफी हैं कि लोगों को अभी भी इस वायरस को हल्के में नहीं आंकना चाहिए। बढ़ते मामलों को देख अब राज्य सरकार ने बसों में यात्रा करने वाले यात्रियों के लिए भी एक प्लान बनाया है।

दरअसल अब स्वास्थ्य विभाग की तरफ से आईएसबीटी में यात्रियों की रेंडम कोविड जांच शुरू कर दी गई है। कोविड-19 के संदिग्ध मरीजों पर विभाग पैनी नजर बैठाए हुए है। इसके अलावा समस्त यात्रियों की सारी डिटेल्स भी दर्ज की जा रही हैं।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: घरों से वंचित ग्रामीणों को मिलेगा घर, 2022 तक 80 हज़ार आवास बांटने का प्लान

यह भी पढ़ें: मशहूर कॉमेडियन भारती सिंह और पति हर्ष के घर से मिला ड्रग्स, NCB की हिरासत में होगी पूछताछ

बड़े बड़े वैज्ञानिकों ने पहले ही बताया था कि ठंड के बढ़ने से कोरोना वायरस और घातक रूप लेे लेगा। और यही हो भी रहा है, जाड़ों के आते ही कोरोना के मामले लगातार बढ़ने में लगे हुए हैं। सरकार के आदेशों पर स्वास्थ्य विभाग ने बसों में सफ़र कर रहे यात्रियों की जांच करना शुरू कर दिया है। आईएसबीटी पहुंची विभाग की टीम ने रैंडम जांच के सैंपल लेने शुरू कर दिए हैं। इसे कोरोना वायरस की दूसरी लहर बताया जा रहा है।

इससे पहले बसों से देहरादून से बाहर जाने वाले यात्रियों और बाहर से देहरादून आने वाले यात्रियों की कोरोना जांच नहीं हो रही थी। शनिवार सुबह विभाग की टीम आईएसबीटी पहुंची। जिसके बाद से ही जांच के सैंपल लेना शुरू किया गया। सैंपलिंग प्रभारी डॉ. एमएस रावत ने बताया कि देहरादून आईएसबीटी पर कुल 50 यात्री और कर्मचारियों की जांच की गई है। इसमें एक व्यक्ति की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है।

इसके अलावा दिल्ली समेत बाहरी राज्यों से उत्तराखंड में प्रवेश करने वाले यात्रियों की चेक पोस्ट पर फिर से कोरोना जांच शुरू हो गई है। हालांकि सभी लोगों के बजाय इस बार रैंडम सैंपल लेकर जांच की जा रही है। कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़ने के बाद प्रशासन ने यह निर्णय लिया है।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: स्कूलों में व्यावसायिक विषय होंगे अनिवार्य, 200 से ज़्यादा अतिथि शिक्षकों को मिलेगा रोजगार

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड के लिए खुशखबरी, विदेशी विश्वविद्यालयों के साथ शोध कार्य करेगा UOU

यह जांचें इसलिए भी जरूरी है क्योंकि हाल में उत्तराखंड में कोरोना ने खासा तेज़ी पकड़ ली है। बता दें कि राज्य में शनिवार को कोरोना के 585 नए मरीज मिले जबकि आठ संक्रमितों की मौत हुई। इसके साथ ही राज्य में कुल मरीजों की संख्या 70790 पहुंच गई है। इसके अलावा को के कारण हुई मृत्य का आंकड़ा 1146 पहुंच गया है।

स्वास्थ्य विभाग की ओर से जारी हेल्थ बुलेटिन के अनुसार शनिवार को अल्मोड़ा में 24, नैनीताल में 71, पौड़ी में 38, बागेश्वर में छह, चमोली में 57, चम्पावत में पांच, देहरादून में 210, हरिद्वार में 43, पिथौरागढ़ में 34, रुद्रप्रयाग में 28, टिहरी में 31, यूएस नगर में 30 और उत्तरकाशी जिले के 8 लोग कोरोना संक्रमित पाए गए हैं।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: कुमाऊं समेत कई विश्वविद्यालयों ने किया इस साल के छात्रसंघ चुनावों को मना

यह भी पढ़ें: देहरादून रोजगार मेले में मिलेंगी डायरेक्ट इंटरव्यू से नौकरी, 25 नवंबर को इस बार छोटे स्तर पर आयोजन

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now