BCCI की उत्तराखण्ड में बैठक खत्म, अब उत्तराखण्ड क्रिकेट पर होगा फैसला

हल्द्वानी: राज्य में क्रिकेट को मान्यता देने और क्रिकेट की जिम्मेदारी का फैसला बीसीसीआई दिल्ली में करेगा।बीसीसीआई की एविलेशन समिति के सदस्यों ने राज्य की चारों क्रिकेट संघों के अधिकारियों से मुलाकात की और अपनी रिपोर्ट तैयार कर ली है।  यह रिपोर्ट कमेटी ऑफ एडमिनिस्ट्रेटर (सीओए) को सौंपी जाएगी, जिसके आधार पर राज्य में क्रिकेट संचालन की योजना तैयार की जाएगी।

मंगरवार को बैठक के दूसरे दिन बीसीसीआई की एविलेशन समिति के सदस्य जीएम क्रिकेट ऐसोसिएशन सबा करीम और पूर्व क्रिकेट अंशुमान गायकवाड़ ने उत्तराखंड क्रिकेट एसोसिएशन (यूसीए), क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड (सीएयू) और यूनाइटेड क्रिकेट एसोसिएशन (यूसीए) के पदाधिकारियों से मुलाकात की। उत्तराखंड क्रिकेट एसोसिएशन के निदेशक दिव्य नौटियाल और रामशरण नौटियाल,  क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड की ओर से अध्यक्ष हीरा सिंह बिष्ट और सचिव पीसी वर्मा  और यूनाइटेड क्रिकेट एसोसिएशन  संजय गुसांई ने संघ द्वारा राज्य में क्रिकेट को बढ़ावा देने वाली गतिविधियों के बारे में बताया। कमेटी ने राज्य में मौजूद उपलब्ध संसाधनों, खेल सुविधाओं, संघ पदाधिकारियों, अब तक किए गए खेल आयोजनों और भविष्य की योजनाओं के संबंध में विस्तार से जानकारी ली।

बता दें कि सीओए को उत्तराखंड और चंडीगढ़ में क्रिकेट संचालन को लेकर फैसला करना है।  समिति चारों संघों से बातचीत के आधार पर अपनी रिपोर्ट तैयार कर सीओए को सौंपेगी।  समिति की रिपोर्ट के आधार पर सीओए अगले कुछ दिनों में इस पर फैसला ले सकता है।  समिति ने राज्य के चारों क्रिकेट संघ पदाधिकारियों से 24-24 सवाल पूछे। समिति ने पहले ही चारों संघों के पदाधिकारियों को 24 सवालों का फॉर्मेट उपलब्ध करवा दिया था। मुलाकात के दौरान समिति ने इन सवालों के विस्तृत जवाब पूछे। इसमें अब तक किए गए खेल आयोजन, भविष्य की योजनाएं, उपलब्ध खेल संसाधन, जिलों में संगठन, अलग-अलग क्षेत्रों में आयोजित गतिविधियों की जानकारी ली।

WARTS की परेशानी मिलेगा निजात, जरूर देखे साहस होम्योपैथिक टिप्स