अल्मोड़ा:ताड़ीखेत के सौनी क्षेत्र में हैरतअंगेज करने वाला मामला सामने आया है। जहां मार्निंग वाक पर निकले जीडी बिड़ला स्कूल के 10वीं के छात्र की संदिग्ध परिस्थितियों में जलने से मौत हो गई। युवक की पहचान (15 साल) दिनेष बिष्ट पुत्र तारा सिंह बिष्ट के रूप में हुई है। दिनेश का शव ग्रामीणों को जलती हुई हालात में सड़क से 15 फुट नीचे मिला। पुलिस ने बताया कि किशों ने दो अज्ञातों युवकों पर तेल छिड़ककर आग लगाने का आरोप लगाया है। इस घटना ने क्षेत्र में हड़कंप मचा दिया है। मामला गुरुवार सुबह का है।

खबर के मुताबिक सौनी निवासी दिनेश बिष्ट पुत्र तारा सिंह बिष्ट रोज रोजाना की तरह सुबह रानीखेत रोड में मार्निंग वाक पर निकला था, लेकिन कुछ देर बाद वह सड़क से 15 फुट नीचे जलती हुई हालत में देखा गया। जिस स्थान पर दिनेश झुलसी हालत में मिला वह उसके घर से दो सौ मीटर की दूरी पर है। सूचना मिलते ही वहां भीड़ लग गई और पुलिस को मामले की सूचना दी गई। घायल दिनेश को तुंरत  राजकीय अस्पताल ले जाया गया जहां उसकी हालात को देखते हुए उसे हल्द्वानी सुशीला तिवारी हॉस्पिटल में रेफर कर दिया।

राजकीय अस्पताल सर्जन डॉ. मुकेश जोशी ने बताया कि दिनेश शत-प्रतिशत झुलस चुका था। हल्द्वानी लाते वक्त घायल दिनेश ने रास्ते में दम तोड़ दिया। दिनेश के पिता की सौनी में सस्ते गल्ले की दुकान भी है। फिलहाल इस मामले में कोई मुकदमा दर्ज नहीं कराया गया है। छात्र के जलने की अल्मोड़ा जनपद की दूसरी घटना। इससे पहले अल्मोड़ा के लमगड़ा ब्लॉक के एक स्कूल में एक छात्र को स्कूल के अंदर ही जिंदा जलाया था जिसकी बाद में उपचार के बाद मौत हो गई थी।