तीन साल से कैंसर से पीडित है 8वीं कक्षा की नेहा, हिम्मत को पवित्रनगरी कर रही है सलाम

उत्तराखंड के हरिद्वार में रहने वाली बेटी ने हिम्मत और लगन की अनूठी मिसाल पेश की है। गंभीर बीमारी से ग्रस्त रहने के बाद भी उसने अपनी परीक्षा दी और सफल भी हुई। उसकी कामयाबी से पूरे क्षेत्र में खुशी का माहौल है। जिस बीमारी का नाम सुनकर लोग हिम्मत हार जाते हैं, उससे ये बच्ची लड़ रही है और अपने परिवार को भी हिम्मत दे रही है।
हरिद्वार के पथरी क्षेत्र की रहने वाली नेहा रावत कैंसर से पीडित है। वो पिछले तीन साल से इस लड़ाई से लड़ रही है। उसने अपने जीवनशैली में इस बीमारी को कभी हावी होने नहीं दिया। वो सामान्य बच्चों की तरह की स्कूल में होने वाली प्रतियोगिताओं में भाग लेती है। इस साल नेहा ने आठवी कक्षा (क्रिस्ट ज्योति एकेडमी) के एग्जाम दिए थे और वो अच्छे नंबरों से भी पास हुई है। अपने इस साहस के लिए स्कूल की शिक्षकाओं ने उसे सम्मानित किया। गांव डोंगीवाला की रहने वाली छात्रा नेहा रावत को स्कूल ने शिक्षा के क्षेत्र में हर संंभंव मदद करने का आश्वासन दिया है।
विद्यालय में आयोजित कार्यक्रम में अतिथियों और शिक्षकों ने नेहा को सम्मानित किया। विद्यालय के प्रधानाचार्य संतोष कुमार का कहना है कि नेहा रावत की पढ़ाई के साथ-साथ खेलकूद के प्रति रुचि है। नेहा विद्यालय में कई खेलकूद प्रतियोगिताओं में भाग लेकर जीत हासिल कर चुकी है। कैंसर की बीमारी के बावजूद नेहा रावत ने हार नहीं मानी और अपनी पढ़ाई जारी रखी। विद्यालय के अन्य छात्र-छात्राओं को नेहा से सीख लेनी चाहिए।
नेहा के पिता दीपक रावत एक प्राइवेट कंपनी में कर्मचारी हैं। परिवार की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं है और पडोस के लोगों के द्वारा मिलने वाली सहायता से उसका इलाज चल रहा है। नेहा ने बीमारी के बाद भी पढ़ाई नहीं छोड़ी और उसकी हिम्मत ने उसके परिवार को भरोसा दिया है कि नेहा जल्द इस बीमारी से भी लड़ाई जीत लेगी।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now