कुमाऊं रेजीमेंट में तैनात सैनिक की मौत, हल्दूचौड़ में तीन साल के बेटे के साथ रहती है पत्नी

हल्द्वानी: राज्य के एक और सैनिक की ड्यूटी में मौत होने की खबर सामने आई है। खबर के सामने आने के बाद सैनिक के घर पर कोहराम मच गया है। उनका एक तीन साल का बच्चा है। घटना से अनजान बेटा खेल रहा था जिसे देख घर पर पहुंचे लोगों के आंसू निकल आए। फौजी का नाम सुशील तिवारी है और कहा जा रहा है कि करेंट लगने से उनकी मौत हो गई।

उत्तराखंड में भारी बारिश और बर्फबारी की प्रशासन ने दी चेतावनी, लिस्ट में है नैनीताल

खबर के अनुसार जागेश्वर अल्मोड़ा के तोली गांव निवासी नंदकिशोर तिवारी के बेटे सुशील तिवारी (30) थलसेना की 19 कुमाऊं रेजीमेंट में नायक के पद पर कार्यरत थे। वह पंजाब में पठानकोट के पास तैनात थे।

सांसद अनिल बलूनी ने जाना मरीजों का दर्द, उठाया ये ऐतिहासिक कदम

हल्द्वानी हल्दूचौड़ स्थित दुर्गापालपुर परमा गांव में चार साल पहले उन्होंने मकान बनाया था, जहां उनकी पत्नी मीना तिवारी चार साल के बेटे लक्ष्य के साथ रहती हैं। लक्ष्य यहां वीर सैनिक स्कूल में एलकेजी का छात्र है। ग्राम प्रधान संजय राणा ने जानकारी दी कि सैनिक का पार्थिव शरीर पठानकोट से पैतृक गांव ले जाया जाएगा, जहां जागेश्वर धाम के घाट पर उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।

सुशील तिवारी के मासूम बेटा लक्ष्य घटना से अनजान है। वह आंगन में खेल रहा था। अब सवाल ये है कि आखिर उस सपूत के परिवार का पालन-पोषण कौन करेगा? वो जवान अपने पीछे पत्नी और 3 साल का एक बेटा छोड़ गया। मौत की खबर सुनते ही उनकी पत्नी बेसुध हो गई। गांव में मातम का माहौल पसरा हुआ है।

उत्तराखंड में भारी बारिश और बर्फबारी की प्रशासन ने दी चेतावनी, लिस्ट में है नैनीताल