ग्राहक का फोन खराब, निगम दे रहा है स्वर्गवासी कर्मचारी का नंबर

देहरादून: बीएसएनएल हर वक्त सुर्खियों में रहता है। कभी कर्मचारियों को सैलरी के मामले में या कभी नेटवर्क के कारण। इस बार बीएसएनएल किसी अन्य कारणों से सुर्खियों में हैं, जो आपको भी चौका सकता है। किसी ग्राहक के फोन खराब को सही करने के लिए बीएसएनएल ऐसे कर्मचारी नंबर दे रहा है जिसका निधन हो चुका है। निगम की इस हरकत से स्वर्गवासी हो चुके कर्मचारी का फौजी बेटा भी परेशान है। बीएसएनएल भले ही समय के साथ अपडेट रहने का दावा करता हो, लेकिन असली तस्वीर कुछ और ही है। कर्मचारी का निधन करीब ढाई साल पहले हो गई है।

मृतक कर्मचारी के बेटे अभिषेक पोखरियाल ने बताया कि उनके पिता का फरवरी 2017 में निधन हो चुका है। लेकिन अभी भी उनके इस नंबर पर कॉल आती हैं कि हमारा फोन कब ठीक होगा। उन्होंने बताया कि वह सेना में तैनात है, बार-बार इस तरह फोन आने से उन्हें दिक्कत होती है। महाप्रबंधक विजयपाल का कहना है कि इस संबंध में आज तक किसी ने कोई शिकायत नहीं की है। शीघ्र ही कर्मचारी के नंबर को हटा लिया जाएगा।

बीएसएनएल ने अन्य फोन सर्विस प्रोवाइडर कंपनियों की तरह ऑटोमेटिक कंप्लेंट सेवा शुरू की है, लेकिन यह सेवा सुविधा के बजाय परेशानी बन गई। शिकायत रजिस्टर्ड करने के बाद उपभोक्ताओं के मोबाइल फोन पर निगम की ओर से संदेश भेजा जा रहा है कि लाइन ठीक करने की जिम्मेदारी हर्षमणि पोखरियाल को दे दी गई है।साथ ही संबंधित व्यक्ति का मोबाइल फोन नंबर भी दिया जाता है। श्री बदरीनाथ-केदारनाथ मंदिर समिति के मीडिया प्रभारी डा. हरीश गौड़ ने बताया कि जब उपभोक्ता संबंधित नंबर पर कॉल करते हैं, तो पता चलता कि उक्त कर्मचारी का काफी पहले निधन हो चुका है।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now