हल्द्वानी-चोरगलिया: यह पुलिस वाले हैं वो भगवान, जिन्होंने बचाई 28 लोगों की जान…

हल्द्वानी: रोजाना की तरह काठगोदाम से टनकपुर के लिए रोडवेज बस (बस संख्या UK04CA 240) रवाना हुई। उसमें बैठे 28 यात्री अपनी मंजिल पर पहुंचने का इंतजार कर रहे थे, लेकिन उन्हें क्या पता था कि जो चालक उन्हें उनकी मंजिल तक पहुंचाने की जिम्मेदारी लिए है वो ही उनका सामना मौैत से कराएगा। शेरनाला चोरगलिया के पास बरसाती नहर का तेज बहाव पानी बस को अपने साथ ले जाने लगा। उसी दौरान ग्रामीणों व उत्तराखण्ड पुलिस के जवान यात्रियों के लिए भगवान बनकर नहर में कूद गए और सभी को बचा लिया। यात्रियों ने घटना के बाद बताया कि चालक को नहर में बस नहीं उतराने के लिए वह बार-बार कह रहे थे लेकिन उसने उनकी ना सुनी और नहर में बस उतार दी। चालक की पहचान आनंद बल्लभ निवासी आम पड़ाव ज्योलिकोट के रूप में हुई है। वहीं कंडक्टर बसंत लाल था। ये बात भी सामने आई कि चालक नशे में था।

इस घटना ने पूरे राज्य में सुर्खियां बटोरी। बस चालक की गलती 28 यात्रियों की जान पर भारी पड़ सकती थी। इन सभी के बीच उत्तराखण्ड पुलिस के जवानों की भी सोशल मीडिया में खूब वाहवाही हो रही है, जिन्होंने अपनी जान जोखिम में डालकर सभी यात्रियों की जान बचाई। इस बारे में उत्तराखण्ड पुलिस ने अपने आधिकारिक फेसबुक पेज पर भी जानकारी दी। पुलिस ने इस घटना के माध्यम से पूरे राज्य के लोगों को बारिश से बचने की सलाह दी। वहीं पहाड़ों में हो रही बारिश से मैदानी इलाकों के नाले उफान पर हैं, जो लोगों की जान के लिए खतरनाक साबित हो रहे हैं। पुलिस ने लोगों को नालों के पास वाहन ना ले जाने का आग्रह किया है। वहीं मौसम विभाग ने पहाड़ी इलाकों में हो रही बारिश के चलते राज्य में चेतावनी दी है।