देहरादून: राज्य में लगातार लॉकडाउन के नियम तोड़ने के मामले सामने आ रहे है। राज्य कोरोना वायरस से लड़ाई कर रहा है लेकिन प्रशासन की मदद करने के बजाए कुछ तत्व उसे सिर दर्द दे रहे हैं। लॉकडाउन नियम तोड़ने का मामला सामने आई रहा है उस जिले से जो दो दिन पूरे पूरे भारतीय मीडिया पर जा रहा था। पौड़ी गढ़वाल में खुलेआम धज्जियां उड़ाई जाने का मामला सामने आया है। प्रशासन से अनुमति लिए बिना मास्क बांटने पर पुरोला के पूर्व विधायक मालचंद समेत तीन के खिलाफ पुलिस ने केस दर्ज किया है। जबकि पौड़ी में तीन और रुद्रप्रयाग में आठ लोगों के खिलाफ आपदा प्रबंधन एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज किया गया। बता दें कि पूर्व विधायक मालचंद पर दूसरी बार मुकदमा दर्ज हुआ है।

खबर के अनुसार उत्तरकाशी जिले के नौगांव में पूर्व विधायक मालचंद सहित तीन लोगों ने प्रशासन से बिना अनुमति गांवों में मास्क और सैनिटाइजर बांटे। नौगांव चौकी प्रभारी प्रदीप तोमर ने बताया कि पूर्व विधायक मालचंद, भाजपा मंडल अध्यक्ष मीना रावत और पूर्व जिला पंचायत सदस्य विजय बंधानी लॉकडाउन तोड़कर कोटियलगांव, कंसोला और सुनारा गांव में मास्क और सैनिटाइजर बांट रहे थे, जहां पर सामाजिक दूरी के नियमों का पालन नहीं हो रहा था। इस पर उनके खिलाफ केस दर्ज किया गया।

तीन दिन पहले भी पुरोला राजस्व क्षेत्र में राजस्व पुलिस ने पूर्व विधायक मालचंद सहित तीन के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया था। पुलिस अधीक्षक पंकज भट्ट ने बताया कि इस मामले में आरोपितों को नोटिस दिया जाएगा। अन्य के खिलाफ भी नोटिस जारी हुए हैं। पहाड़ी क्षेत्रों में कोरोना वायरस के मामले नहीं है। इस तरह की गतिविधियां खतरों को बढ़ावा दे देती है। प्रशासन लोगों से घर पर ही रहने का आग्रह कर रहा है। जितने कम लोगों से मुलाकात हो उतना अच्छा है। इससे आप भी सुरक्षित रहेंगे और दूसरा भी। जिला प्रशासन द्वारा बार-बार गाइडलाइन जारी की गई है लेकिन फिर भी कुछ लोग कानून का उल्लंघन कर रहे है और पुलिस को सख्त कार्रवाई के लिए मजबूर कर रहे हैं।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now