जरूरी खबर: 4 दिन के लिए उत्तराखंड आने पर नहीं करवाना होगा कोरोना टेस्ट

जरूरी खबर: 4 दिन के लिए उत्तराखंड आने पर नहीं करवाना होगा कोरोना टेस्ट

देहरादून: राज्य में कोरोना वायरस के मामले कम होने का नाम नहीं ले रहे हैं। कोरोना वायरस को नियंत्रण में रखा जाए, इसके लिए सरकार और जिला प्रशासन पूरी कोशिश कर रहा है। अब तो व्यापारियों ने भी खुद से बाजार बंद करने का फैसला किया है। अब तो बॉर्डर में भी कोरोना जांच की जा रही है जिसका शुल्क लोगों को देना होगा। कुछ दिन पहले उत्तराखंड आने वाले यात्रियों की बॉर्डर पर एंट्री से पहले कोरोना टेस्ट कराने का आदेश दिया था। आदेश में कहा गया था कि या तो यात्री अपनी कोविड नेगेटिव रिपोर्ट साथ लेकर आएं या फिर उत्तराखंड के बॉर्डर पर ही यात्रियों को कोविड जांच करानी होगी।

लेकिन अब मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बाहर से आने वाले यात्रियों को बड़ी राहत दी है। सीएम ने कहा कि बाहरी प्रदेश से तीन से चार दिन के लिए कोई आ रहा है तो उन्हें कोरोना जांच की जरूरत नहीं होगी। बता दें कि बॉर्डर में कोरोना जांच के फैसले के बाद सरकार की आलोचना हो रही थी। क्योंकि राज्य में कई काम के चलते लोगों का कुछ वक्त के लिए आना-जाना लगा रहता है और ऐसे में अगर उनकी जांच होगी तो उन्हें अपनी जेब ढीली करनी पड़ेगी। जो यात्री बाहर से कुछ दिन के लिए काम के लिए आना चाह रहे थे वे भी चिंता में थे। गुरुवार को हरिद्वार पहुंचे मुख्यमंत्री को भी हरिद्वार के व्यापारी वर्ग ने ज्ञापन सौंपकर बाहर से आने वाले यात्रियों को रियायत देने की मांग की थी। इससे पहले भी उत्तराखंड में तीन दिन के लिए अगर कोई आता है तो उसे कोरोना जांच की आवश्यकता नहीं थी लेकिन बॉर्डर में कोरोना जांच शुरू होने से सभी के लिए यह अनिवार्य कर दिया गया था। इससे लेकर काफी संशय भी था तो अब दूर हो गया है। हालांकि उत्तराखंड आने के लिए देहरादून स्मार्ट सिटी पोर्टल पर पंजीकरण कराना अनिवार्य है।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now