मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने रविवार को पिथौरागढ़ जिला मुख्यालय में ग्राम्य विकास विभाग तथा एकीकृत आजीविका सहयोग परियोजना के संयुक्त सहयोग से संचालित किसान आउटलेट (सरस मॉर्केट ) का स्थलीय निरीक्षण किया. सरस मार्केट में स्वयं सहायता समूहों की महिलाओं एवं महिला फेडरेशनों के द्वारा खोले गए कैफे (रेस्तरां) को महिलाओं हेतु एक बेहतर स्वरोगार का माध्यम बताते हुए मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि इस प्रकार की पहल निश्चित रूप से एक उल्लेखनीय कार्य है इससे जहॉ एक ओर महिलाओं को स्वरोजगार प्राप्त होगा वहीं महिलाएं स्वावलंबी बनेंगी जिससे महिला फेडरेशन व महिला समूह आर्थिक रूप से मजबूत होंगी.

इस दौरान उन्होंने सरस मार्केट में आई एलएसपी व एनआरएलएम के सहयोग से संचालित ग्रामीण उत्पादों की बिक्री हेतु खोली गई दुकानों जा भी निरीक्षण किया गया. मुख्यमंत्री ने कहा कि एक ही छत के नीचे किसानों द्वारा उत्पादित ग्रामीण उत्पादों व स्थानीय काष्ठकला को एक बेहतर बाजार मुहैय्या कराए जाने हेतु जिले में किया गया यह प्रयास काफी सराहनीय है. इससे किसानों को उनके उत्पाद को बेचने हेतु जहां एक ओर बेहतर बाजार मिल रहा है वही उन्हें उनके उत्पादों का अच्छा दाम भी मिलेगा. उन्होंने कहा कि इस कार्य में कार्यरत सभी महिला समूहों व फेडरेशनों को भी बेहतर लाभ मिलेगा.

मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र ने कहा कि महिलाओं को आर्थिक रूप से मजबूत करने एवं उन्हें स्वरोजगार मुहैया कराए जाने हेतु सरकार द्वारा विभिन्न योजनाओं के माध्यम से लाभान्वित किया जा रहा है.उन्होंने सरस मार्केट (किसान आउटलेट) के माध्यम से गुणवत्तायुक्त सामग्री उपलब्ध कराए जाने हेतु बेहतर पैकेजिंग ब्यवस्था को भी सराहा. इस दौरान मुख्य सचिव उत्तराखंड उत्पल कुमार द्वारा भी महिलाओं द्वारा संचालित कैफे हाउस की सराहना करते हुए कहा कि प्रदेश के अन्य जनपदों हेतु भी यह एक बेहतरीन प्रेणना है, इससे महिलाऐं आर्थिक तौर पर मजबूत होने के साथ ही सशक्त बनेंगी.

निरीक्षण के दौरान मुख्य विकास अधिकारी वन्दना ने अवगत कराया कि जिले में ग्रामीण स्तर पर महिला समूहों व विभिन्न फेडरेशनों के माध्यम से उत्पादित स्थानीय उत्पादों को एक बेहतर दाम व बाजार उपलब्ध कराए जाने हेतु यह प्रयास किया गया है इसी के अंतर्गत महिला फेडरेशन व समूह को आर्थिक रूप से मजबूत किए जाने हेतु कैफे हाउस खोला गया है तीन दिन पूर्व खोले गए इस कैफे हाउस में कुल 15 हजार की बिक्री हो गई है.

निरीक्षण के दौरान पूर्व मुख्यमंत्री भगत सिंह कोश्यारी, दर्जा राज्यमंत्री शमशेर सत्याल, अध्यक्ष के एम वी एन केदार जोशी,मुख्य सचिव उत्पल कुमार सिंह,सचिव वित्त अमित नेगी,जिलाधिकारी डॉ विजय कुमार जोगदण्डे,पुलिस अधीक्षक आर सी राजगुरू, सी डी ओ वन्दना सहित विभिन्न अधिकारी, जनप्रतिनिधि आदि उपस्थित रहे.