कुमाऊं विश्वविद्यालय की परीक्षा देने पहुंचा छात्र निकला कोरोना संक्रमित

नैनीताल: कुमाऊं विश्वविद्यालय की परीक्षाओं कोरोना काल में शुरू हो गई है। सोमवार को विश्वविद्यालय के विभिन्न कॉलेजों में परीक्षा देने विद्यार्थी पहुंचे। इस बीच प्रशासन की ओर से कोरोना वायरस से निपटने हेतु सभी इंतजाम किए गए थे। विद्यार्थियों की थर्मल स्क्रिनिंग कर ही एंट्री दी जा रही है। इसी बीच सोमवार को परीक्षा देने पहुंचे विद्यार्थियों को कोरोना संक्रमित होने के मामले भी सामने आए हैं। सबसे पहले बात करते है कुमाऊं विद्यालय के भीमताल परिसर की। एक हिमाचल निवासी छात्र परीक्षा देने पहुंचा। उसका तापमान अधिक रहा तो हेल्थ डिपार्टमेंट की टीम ने डॉक्टरों को बुलाया। डॉक्टरों द्वारा छात्र को रैपिड टेस्ट के लिए हॉस्पिटल ले जाया गया, जहां वह कोरोना संक्रमित पाया गया।

This image has an empty alt attribute; its file name is HALDWANILIVE-scaled.jpg

वहीं एक अन्य मामला बागेश्वर से भी सामने आया है। राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय में सोमवार को बीए प्रथम, बीएड, एमकॉम द्वितीय, बीए सिक्स सेमेस्टर और बीकॉम सिक्स सेमेस्टर की परीक्षाएं तीन पाली में आयोजित की गईं। सोमवार को एक छात्र की थर्मल स्केनिंग में 99.3 और दूसरे बार कराने पर 98.4 डिग्री सेल्सियस तापमान आया। जिसकी सूचना तत्काल जिला अस्पताल को दी गई। वहां से डाक्टरों की टीम एंबुलेंस लेकर कालेज पहुंची और छात्र को रैपिड टेस्ट के लिए ले गई। जांच में वह पॉजिटिव निकला है। जबकि अन्य 15 विद्यार्थियों का तापमान भी अधिक आने पर उन्हें अलग कक्ष में परीक्षाएं दिलाई गईं। उन्होंने बताया कि यदि कोई विद्यार्थी परीक्षा नहीं दे पा रहा है तो वह बाद में दे सकता है। बागेश्वर में पहली पाली में 249 छात्र-छात्राएं पंजीकृत थे। जिसमें 229 ने परीक्षा दी और 20 बच्चे अनुपस्थित रहे। दूसरी पारी में 63 बच्चे पंजीकृत थे। 50 ने परीक्षा दी और 13 बच्चे अनुपस्थित रहे। तीसरी पारी आयोजित की जा रही है। जिसमें 78 छात्र-छात्राएं पंजीकृत हैं।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now