हरिद्वार: क्रिकेट टीम के चयन पर उठाए गए सवाल, लगे ये आरोप

हल्द्वानी: राज्य में आगामी क्रिकेट सीजन के लिए ट्रायल प्रक्रिया शुरू हो गई है। विजय हजारे के बाद अंडर-19 प्रक्रिया शुरू हो गई है लेकिन पिछले साल की तरह इस बार फिर क्रिकेट ट्रायल को लेकर विवाद सामने आ रहा है। हरिद्वार जिला क्रिकेट एसोसिएशन के कार्यकारी अध्यक्ष रोहन सहगल ने क्रिकेट ट्रायल को लेकर सवाल उठाए है और आरोप लगाया है। उन्होंने प्रेस कॉफ्रेस कर नाराजगी व्यक्त की।

रोहन सहगल ने विजय हजारे ट्रायल में पारदर्शिता नहीं अपनाई जाने की बात कही है। रोहन सहगल ने कहा कि भल्ला कॉलेज के पास जिस मैदान पर ट्रायल का आयोजन कराया जा रहा था वो पिच किसी भी रूप से खिलाड़ियों और खेल के लिए अनुकूल नहीं है। जिस पिच पर ट्रायल का आयोजन किया गया वो केवल मिट्टी की थी जिसमें कोई खिलाड़ी अपनी क्षमता नहीं दिखा सकता है। उन्होंने कहा कि ट्रायल केवल औपचारिकता मात्र था जो ट्रायल आयोजकों की कार्यशैली पर सवाल खड़े करता है।

उन्होंने कहा कि जिस खिलाड़ी का नाम पिछली बार टीम में था उसका नाम इस बार काट दिया गया। इसके अलावा उन्होंने ट्रायल पंजीकरण में 300 रुपए के शुल्क पर भी सवाल उठाया। उन्होंने कहा कि मान्यता मिलने काे बाद पूरा खर्चा बीसीसीआई करता है तो खिलाड़ियों से शुल्क लेने का क्या मतलब है।

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंडः पति नशा मुक्ति केंद्र में करा रहा इलाज, पत्नी से दुष्कर्म करता रहा पड़ोसी

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंड के अल्मोड़ा में बादलों ने मचाया ताडंव, बादल फटने से मकान ढहा

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंडः पत्नी पति से वीडियो कॉल पर कर रही थी बात, हुआ कुछ ऐसा की हुई मौत

यह भी पढ़ेंः उत्तराखण्ड क्रिकेट टीम के लिए खेलेंगे उन्मुक्त चंद, खुद किया ट्विट

यह भी पढ़ेंः हल्द्वानी नैैनीताल बैंक में फिल्मों की तरह दीवार तोड़कर घुसे चोर, हुए नाकामयाब