उत्तराखंड में डेंगू के डंक ने ली छात्रा की जान, 687 पहुंची पीड़ित मरीजों की संख्या

max face clinic haldwani

देहरादूनः राज्य में डेंगू के डंक का प्रकोप बढ़ता ही जा रहा है। डेंगू के बुखार से पीड़ित मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है। वहीं डेंगू के बुखार से एक छात्रा की मौत हो गई है। देहरादून में नेहरू कालोनी निवासी एक छात्रा की डेंगू बुखार से मौत हो गई है।

बता दें कि टिहरी गढ़वाल की रहने वाली 19 वर्षीय एक छात्रा को करीब 15 दिन पहले बुखार हुआ था। कॉलेज में अचानक उसकी तबीयत बिगड़ने पर उसे नेहरू कालोनी स्थित घर पहुंचाया गया। इसके बाद परिवारवालों ने उसे श्री महंत इन्दिरेश अस्पताल ले गए। इलाज के बाद परिवारवाले उसे वापस घर ले गए। लेकिन घर आने के बाद उसकी तबीयत फिर से बिगड़ गई। इसके बाद परिवारवाले उसे हिरद्वार रोड स्थित कैलाश अस्पताल लेकर पहुंच गए। डॉक्टरों ने उसे भर्ती कर दिया। जांच में पता चला कि डेंगू से उसके मल्टी ऑर्गन फेल हो गए हैं। साथ ही प्लेटलेट्स भी गिर गई हैं। किडनी में दिक्कत के कारण छात्रा का डायलेसिस कर प्लेटलेट्स चढ़ाई गई। करीब चार दिन तक जब उसकी हालात में कोई सुधार नहीं हुआ तो परिवारवाले उसे एम्स (ऋषिकेश) लेकर गए।

एम्स में वेंटिलेटर उपलब्ध न होने पर छात्रा को हिमालयन अस्पताल जौलीग्रांट ले जाया गया। जहां डॉक्टरों ने छात्रा को वेंटिलेटर पर रखा। करीब 15 दिन बाद सोमवार को छात्रा ने दम तोड़ दिया। जिला वेक्टर जनित रोग नियंत्रण अधिकारी सुभाष जोशी ने छात्रा में डेंगू की पुष्टि की है। उनका कहना है कि विभाग ने छात्रा की कुछ दिन पहले एलाइजा जांच कराई थी। छात्रा की बहन को भी इससे पहले डेंगू हुआ था। बता दें कि छात्रा क्लेमेंटटाउन स्थित एक निजी कॉलेज से ग्रेजुएशन कर रही थी। कुछ दिन पहले ही उसने कॉलेज में एडमिशन लिया था। मृतक के परिवार में कोहराम मच गया है।

बता दें कि देहरादून जिले में डेंगू पीड़ित मरीजों की संख्या 661 पहुंच गई है। देहरादून से बाहर के जिलों को मिलाकर आंकड़ा 687 पहुंच गया है।

यह भी पढ़ें: उम्र की सीमा को प्यार ने तोड़ा, 55 साल की वैलेंटिना को हुआ 25 के नावेद से प्यार

यह भी पढ़ें: भगत सिंह कोश्यारी बने महाराष्ट्र के नए राज्यपाल

यह भी पढ़ें:उत्तराखंडः चाऊमीन खिलाने के बहाने 10 साल की बच्ची से किया दुष्कर्म

यह भी पढ़ें:बेरोजगार युवाओं हो जाओ तैयार, सीधे इंटरव्यू द्वारा होने जा रही हैं बंपर भर्तियां

यह भी पढ़ें: सीनियर खिलाड़ियों के बाद युवाओं के लिए चैलेंज, अब होंगे अंडर-19 ट्रायल, जानें