डीएम की रिश्ववत देने की कोशिश, पुलिस जवान बोला चुप जाओं वरना जेल में डाल दूंगा


देहरादून: उत्तराखण्ड की पहचान एक ईमानदार राज्य के रूप में होती है। यहां के लोग कही भी जाए, उन्हें सम्मान और आदर की नजरों से देखा जाता है। उत्तराखण्ड पुलिस की ईमानदारी भी किसी से नहीं छिपी है। पर्यटकों के साथ उनके मधुर संबंधों के बारे में सोशल मीडिया के जरिए हमें इसका प्रमाण मिलता रहा है। वहीं अब एक ऐसा पुलिस कर्मी वायरल हो रहा है जिसने डीएम को जेल में डालने की धमकी दे दी। मामला सोनप्रयाग का है। दो दिन पहले रुद्रप्रयाग के डीएम मंगेश घिल्डियाल वेश बदलकर चारधाम यात्रा का जायजा लेने के लिए पहुंच गए। भेष बदलकर सीतापुर से गौरीकुंड तक देर रात्रि से अगले दिन पूर्वान्ह 11 बजे तक यात्रा व्यवस्थाओं का जायजा लिया गया था।

इस दौरान मध्य रात्रि करीब 12 बजे सोनप्रयाग में ड्यूटी कर रहे पुलिस जवान मोहन सिंह से डीएम मंगेश ने आगे जाने की अनुमति मांगी और  जवान ने मना कर दिया। इसके बाद डीएम मे उन्हें 200 रुपये से लेकर दो हजार रुपये तक की रिश्वत देने की पेशकश की जिसे जवान मोहन सिंह ठुकरा दिया और चेतावनी दे दी कि वह यहां से चलें जाए नहीं तो जेल में डाल देंगे। कांस्टेबल की ईमानदारी व कर्तव्यनिष्ठा की डीएम ने प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि इस तरह ईमानदार व ड्यूटी के प्रति समर्पित कर्मचारियों के सहारे यात्री चल रही है। उन्होंने कांस्टेबल मोहन सिंह को प्रशासन की तरफ से पांच हजार रुपये पारितोषिक और प्रशस्ति पत्र देने की बात कही। जल्द ही कांस्टेबल को सम्मानित किया जाएगा।

WARTS की परेशानी मिलेगा निजात, जरूर देखे साहस होम्योपैथिक टिप्स