उत्तराखंडः गुड़िया के बाल की आड़ में बेच रहे थे गांजा, पुलिस ने ऐसे किया गिरफ्तार

देहरादूनः राज्य में नशा इस तरह घुल चुका है कि युवा पीड़ी इस नशे के दलदल में फंसता ही चला जा रहा है। नशे के इस बढ़ते मायाजाल को रोकने के लिए पुलिस आए दिन अभियान चला कर नशे के सौदागरों को गिरफ्तार कर रही है। क्लेमनटाउन पुलिस ने कॉलेज के छात्रों को गांजा बेचने वाले चार तस्करों को गिरफ्तार किया है। आरोपितों के पास से सात किलोग्राम गांजा बरामद किया गया। पूछताछ में आरोपितों ने बताया कि गुड़िया के बाल बेचने की आड़ में छात्रों को गांजा बेचते थे।

क्लेमनटाउन थानाध्यक्ष नरोत्तम बिष्ट का कहना है कि क्षेत्र में लंबे समय से नशे के धंधे की सूचना मिल रही थी। हॉस्टल में रहने वाले छात्रों को गांजा, चरस और स्मैक बेचने की सूचना पुलिस को मिली। इसके आधार पर पुलिस ने क्षेत्र में चेकिंग की। इसी दौरान बुधवार को पुलिस ने बैल रोड पर चार युवकों को संदिग्ध परिस्थिति में घूमते देखा। पुलिस चारों को थाने ले आई, जहां तलाशी लेने पर उनके पास से गांजा बरामद हुआ।

पुलिस पूछताछ में आरोपितों ने अपना नाम सुमेर निवासी नगला मोती, हाथरस, नीतू निवासी केहर नगला, उत्तरप्रदेश, अरुण कुमार निवासी मोहम्मदपुर पश्चिम बंगाल और रविनाथ निवासी मोथरोवाला बताया। आरोपियों का कहना है कि गुड़िया के बाल बेचते समय वह नशे के आदी छात्रों को पुड़िया बनाकर गांजा बेचते हैं। पुलिस ने चारों के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट में मुकदमा दर्ज कर लिया है।

यह भी पढ़ेंः रातों-रात सोशल मीडिया की स्टार बनी हरिद्वार की युवती, वीडियो हुआ वायरल

यह भी पढ़ेंः उत्तराखण्ड अंडर-19 टीम का हुआ ऐलान, हल्द्वानी के इन दो खिलाड़ियों ने बनाई जगह

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंडः घर के बाहर खड़ी किशोरी से दुष्कर्म का प्रयास, आरोपित युवक गिरफ्तार

यह भी पढ़ेंः हल्द्वानीः स्कूल में छात्रा की संदिग्ध परिस्थितियों में हुई मौत, ई रिक्शे में ले गए शव

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now