बड़ी खबर उत्तराखंड- चारधाम यात्रा एक जुलाई से शुरू, गाइडलाइन जारी हुई

देहरादून: इस वक्त की सबसे बड़ी खबर चारधाम यात्रा से जुड़ी है। चारधाम यात्रा एक जुलाई से शुरू हो रही है। उत्तराखंड के निवासी ही चारधाम यात्रा कर पाएंगे। चारधाम देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड की वेबसाइट पर पंजीकरण करना भी अनिवार्य होगा।  चारधाम यात्रा को लेकर लगातार कयास लगाए जा रहे थे जो आज समाप्त हो गए है।

सोमवार को चारधाम देवस्थानम बोर्ड के सीईओ रविनाथ रमन ने चारधाम यात्रा के लिए एसओपी जारी कर दिया है। कोरोना वायरस के चलते चारधाम यात्रा रोकी गई थी। अभी सिर्फ राज्य के श्रद्धालु ही बदरीनाथ, केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री धाम जा सकेंगे। इस दौरान कोरोना संक्रमण से बचाव के नियमों का पालन करना जरूरी होगा। किसी भी कंटेनमेंट और बफर जोन में रहने वाले लोगों को यात्रा पर जाने की अनुमति नहीं होगी। 

देवस्थानम प्रबंधन बोर्ड की वेबसाइट badrinath-kedarnath.gov.in पर भी पंजीकरण करना होगा। इसके बाद ई-पास और अपलोड किए गए फोटो आइडी और निवास स्थान का प्रमाण पत्र यात्रा के दौरान साथ में होना जरूरी है। मंदिर में प्रवेश से पहले हाथ-पैर धोना अनिवार्य होगा। साथ ही परिसर के बाहर से लाए गए प्रसाद और चढावे को मंदिर में लाना वर्जित रहेगा। मूर्ति को स्पर्श करने की भी अनुमति नहीं होगी।  

यात्रा विश्राम स्थल पर यात्रियों को सिर्फ एक रात की अनुमति ही होगी। इसके अलावा जिन लोगों में कोरोना वायरस के लक्षण पाए जाएंगे उन्हें यात्रा करने नहीं दिया जाएगा।केंद्र सरकार के निर्देश के मुताबिक 65 साल से अधिक और दस साल से कम आयु को यात्रा की इजाजत नहीं है।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now