हल्द्वानी: राजेंद्र सिंह नेगी की सलामती की दुआ पूरा देश मांग रहा है। 11वीं गढ़वाल राइफल्स का जवान राजेंद्र गत आठ जनवरी से लापता हैं। वर्तमान में उनकी तैनाती जम्मू-कश्मीर के गुलमर्ग अनंतनाग फारवर्ड पोस्ट पर थी। आठ फरवरी को पोस्ट के पास एवलांच आया था। जिसकी चपेट में आने से वह पाक सीमा की तरफ गिर गए थे।

सेना के जवान तब से लेकर लगातार रेस्क्यू अभियान चला रहे हैं, लेकिन अभी तक राजेंद्र का पता नहीं चल पाया है। आठ जनवरी से लापता वह लापता है। उनके बारे में कोई जानकारी सामने नहीं आ रही है और इससे उनके परिवार की चिंता बढ़ गई है। परिजनों ने केंद्र सरकार और रक्षा मंत्री से अपील की है कि पाकिस्तान के साथ डीजीएमओ स्तर की बातचीत कर दिन के समय सर्च अभियान चलाए।

वही दुबई से प्रकाशित समाचार पत्र ‘खलीज टाइम्स’ की रिपोर्ट का कहना है कि भारतीय फौजी बर्फ में फिसलकर पाकिस्तान के कब्जे वाले क्षेत्र में जा पहुंचे हैं। रिपोर्ट में कहा गया है कि पाकिस्तानी अधिकारियों ने इस बारे में कुछ नहीं कहा है कि उनकी कस्टडी में कोई भारतीय सैनिक है या नहीं है। भारतीय सेना ने कहा है कि नेगी की तलाश के लिए अभियान चल रहा है। उन्हें सुरक्षित खोजने के लिए हर संभव प्रयास किए जा रहे हैं। देहरादून की अंबीवाला सैनिक कॉलोनी के रहने वाले नेगी ने 2002 में गढ़वाल राइफल्स रेजिमेंट ज्वाइन की थी। वह अक्टूबर में देहरादून आए थे और नवंबर से गुलमर्ग में तैनात थे।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now