अब पर्यटक कर सकेंगे फूलों की घाटी का दीदार,बस इस नियम को करना होगा Follow

अब पर्यटक कर सकेंगे फूलों की घाटी का दीदार,बस इस नियम को करना होगा Follow

चमोलीः चमोली जिले में मौजूद फूलों की घाटी पूरी दुनिया में मशहूर है। हर साल फूलों की घाटी के दीदार के लिए देश विदेश से लाखों पर्यटक यहां आते हैं। यूं तो फूलों की घाटी अपनी सुंदरता के लिए विश्व प्रसिद्द है लेकिन कोरोना के वजह से फूलों की घाटी को बंद कर दिया गया था। लेकिन अब यहां आने वाले पर्यटकों के लिए एक अच्छी खबर सामने आई है। अब पर्यटक फूलों की घाटी का दीदार कर सकेंगे। लेकेिन इसके लिए कोविड नियमों के तहत उन्हें 72 घंटे पहले की कोरोना निगेटिव रिपोर्ट दिखानी होगी। 

बता दें कि नंदा देवी राष्ट्रीय पार्क के उप वन संरक्षक नंदा बल्लभ शर्मा ने कहा कि फूलों की घाटी एक जून को खोल दी गई है। लेकिन कोरोना के चलते पर्यटकों की आवाजाही बंद थी। अब घाटी को पर्यटकों के लिए खोल दिया गया है। जो भी पर्यटक यहां आएगा उसके पास 72 घंटे की निगेटिव टेस्ट रिपोर्ट होनी जरूरी है।

फूलों की घाटी में आने के लिए सबसे अच्छा समय जुलाई, अगस्त और सितंबर को माना जाता है। सितंबर में यहां ब्रह्मकमल खिलते हैं। जो सभी पर्यटकों का मन मोह लेते हैं। इनकी सुंदरता का हर कोई दीवाना है। फूलों की घाटी के वन क्षेत्राधिकारी वृजमोहन भारती का कहना है कि घाटी में फूलों की लगभग 500 प्रजातियां खिलती हैं। मौजूदा समय में यहां करीब 300 फूलों की प्रजाति खिली हुई हैं। बता दें कि फूलों की घाटी तक पहुंचने के लिए आपको गोविंदघाट से 16 किमी की पैदल दूरी तय करनी पड़ती है।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now