उत्तराखंड में प्रॉपर्टी डीलर के घर पुलिस का छापा, करोड़ों की नशीली दवाएं बरामद

हल्द्वानीः काशीपुर से एक ऐसा मामला सामने आया जिसने पूरे क्षेत्र में सनसनी फैला दी। काशीपुर पुलिस ने प्रॉपर्टी डीलर के घर पर छापा माकर नशीली दवाओं का बड़ा जखीरा बरामद किया। बरामद दवाओं की कीमत दो करोड़ रुपये से ज्यादा बताई जा रही है। गोदाम को एक दवा व्यवसायी ने तीन हजार रुपये प्रति माह के किराये पर लिया हुआ था। पुलिस ने मकान के मालिक और दवा व्यवसायी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है।

बता दें कि मामला मानपुर क्षेत्र का है। जहां पुलिस को एक घर में नशीली दवाओं का जखीरा होने की सूचना मिली थी। सूचना मिलते ही पुलिस और एसओजी की संयुक्त टीम का गठन किया गया। इसके बाद सोमवार को टीम ने एसएपी राजेश भट्ट के नेतृत्व में प्रॉपर्टी डीलर के घर पर छापा मारा। पुलिस को वहां एक कमरे से दवाओं के 52 कार्टून मिले। कार्टून में जो दवाएं रखी थीं, वो प्रतिबंधित दवाओं की श्रेणी में आती हैं।

मौके से बरामद ज्यादातर दवाएं नशीली और प्रतिबंधित हैं। इनमें डाईसाइक्लोमीन, फिनाइल प्रोपलाइन, अल्प्राजोलम, पेंटाजोसिन, कोरेक्स सिरप और ट्रामाडोल जैसी दवाएं हैं। इसके अलावा नशे के इंजेक्शन भी मिले। बरामद दवाओं की कीमत करीब दो करोड़ रुपये है। पुलिस ने प्रॉपर्टी डीलर के परिवार से पूछताछ भी की। परिवार की महिलाओं का कहना है कि घर के गोदाम को घासमंडी के एक दवा व्यवसायी ने किराये पर लिया हुआ है। पुलिस ने भवन मालिक गोपाल बिष्ट और दवा व्यवसायी हरिओम अग्रवाल के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत केस दर्ज कर लिया है, मामले की जांच की जा रही है।