एक अप्रैल से प्राथमिक स्कूलों को खोलने की तैयारी में उत्तराखंड सरकार,मोहर लगने का इंतजार

उत्तराखंड:सरकारी स्कूलों में नहीं होंगी गृह परीक्षाएं,प्राइवेट स्कूलों को विभाग ने दी परीक्षा लेने छूट

देहरादून: कोरोना वायरस को पीछे छोड़ते हुए सुरक्षा के साथ शैक्षणिक संस्थानों को खोला गया। उत्तराखंड में 6 से 12 तक की कक्षाएं शुरू हो गई हैं। अब सरकार प्राथमिक स्कूलों को भी खोलना का प्लान बना रही है। खबरों की मानें तो सरकार की कोशिश है कि एक अप्रैल से स्कूलों को खोला जाए। बता दें कि पिछले एक साल से प्राथमिक स्कूलों के बच्चे ऑनलाइन माध्यम से पढ़ रहे थे। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार प्राथमिक स्कूलों को खोलने पर सहमति बन चुकी है और अब कैबिनेट में इस को लागू करने का फैसला लेना है।

हालांकि ये अभिभावकों पर निर्भर करेगा कि वह बच्चे को स्कूल भेजा या नहीं। कोशिश ये भी की जा रही है कि पढ़ाई ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों ही माध्यम से हो। विद्यालय प्रशासन बच्चों को स्कूल भेजने का कोई प्रेशर किसी भी अभिभावक के ऊपर नहीं डाल सकेगाशिक्षा सचिव आर मीनाक्षी सुंदरम ने इस बात के संकेत दे दिए हैं। उन्होंने कहा है कि आगामी बैठक में इस संबंध में प्रस्ताव रखने की तैयारी की जा रही है। स्कूल खोलने का फैसला अभिभावकों की इच्छा से लागू किया जाएगा। स्कूल खोलना इसलिए भी जरूरी हो गया है क्योंकि पहाड़ी क्षेत्रों में इंटरनेट की व्यवस्था शहरों की तरह सुगम नहीं है।

उत्तराखंड में कोरोना वायरस का आंकड़ा 98311 पहुंच गया है जबकि 94430 मरीज ठीक हो चुके हैं। वहीं देशभर में कोरोना वायरस के केस दोबारा आने लगे हैं। इसलिए सरकार कोई भी जोखिम नहीं लेना चाहती है। वह हर प्लान पर लगातार मंथन कर रही है ताकि बच्चों को सुरक्षित माहौल में पढ़ाई कराई जा सके।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now