हल्द्वानी: राज्य में सड़क हादसों की संख्या कम होने का नाम नहीं ले रही है। कई बार सामने आया है कि चालक के शराब पीने के बाद लापरवाही सड़क हादसे का कारण बनी है। एक गलती के चक्कर में बस में सवार यात्रियों की जिंदगी खतरे में पड़ जाती है। चालक और परिचालक की लापरवाही के चलते विभाग हर वक्त निशाने में रहता है। अब वो सख्ती के मूड में आ गया है।

मामला सोमवार का है। दिल्ली से पिथौरागढ़ जा रही बस चला रहे चालक ने इतनी शराब पी रखी थी कि वो उसे चलाने की स्थिति में नहीं था। बताया जा रहा है कि चालक ने रामपुर रेस्तरां में शराब पी थी। यात्रियों की सुरक्षा को ध्यान में रखते हुए परिचालक ने ऑफसरों को इस बारे में सूचित किया।

खबर के अनुसार  पिथौरागढ़ डिपो की एक बस (यूके07पीए-2147) दिल्ली आइएसबीटी से रविवार रात साढ़े दस बजे पिथौरागढ़ के लिए चली। मंगलवार तड़के मुरादाबाद के पास रामपुर में बस खाने के लिए रोकी गई। इसी दौरान चालक ने शराब पी ली और फिर वो गाड़ी चालने की स्थिति में नहीं रहा। इसके बाद परिचालक गणेशचंद्र पांडे ने एजीएम पिथौरागढ़ को फोन कर सूचित किया। एजीएम ने तत्काल पुलिस बुलाकर चालक को गिरफ्तार कराने के निर्देश दिए व बताया कि वह दूसरा चालक मौके पर भेजने की बात कही।

परिचालक ने 100 नंबर पर फोन कर पुलिस को बुलाया और चालक को गिरफ्तार किया गया। करीब तीन घंटे बाद हल्द्वानी से दूसरा चालक मौके पर पहुंचा और बस को पिथौरागढ़ ले गया। रोडवेज के महाप्रबंधक संचालन दीपक जैन ने बताया कि आरोपित संविदा चालक राजू कुमार को बर्खास्त कर दिया गया है। चूंकि, परिचालक ने सूझबूझ का परिचय दिया, लिहाजा उसके खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जाएगी।