इस्तीफे के बाद प्रेसवार्ता में त्रिवेंद्र सिंह रावत ने ली चुटकी, हंसकर बोले दिल्ली जाना पड़ेगा

हल्द्वानी:कुछ देर पहले मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने पद से इस्तीफा दे दिया है। उन्होंने अपना त्याग पत्र राज्यपाल बेबी रानी मौर्य को सौंपा और फिर प्रेस वार्ता में भाग लिया। उन्होंने सबसे पहले भाजपा का धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि पार्टी ने गांव के लड़के को सीएम पद तक पहुंचाया और यह केवल हमारा दल ही कर सकता है। इसके अलावा मुझे कई महत्वपूर्ण जिम्मेदारी भी दी गई। उन्होंने कहा कि चार साल उत्तराखंड के लिए मैने बतौर सीएम काम किया, यह मेरे लिए सौभाग्य की बात है।

इस दौरान उन्होंने कहा कि मेरे पिता फौज में रहे थे और यही से सेवा भाव मेरे अंदर आया। उन्होंने कहा कि यह फैसला संयुक्त रूप से लिया गया है। हम भारतीय जनता पार्टी के हर फैसले का आदर करते हैं। प्रेस वर्ता के दौरान उनसे पूछा गया कि उन्हें क्यों कुर्सी छोड़नी पड़ रही है, इस पर उन्होंने मजाकियां ढंग से कहा कि ये जानने के लिए आपकों दिल्ली जाना पड़ेगा। इस पर प्रेस वार्ता पर मौजूद सभी लोग हंसने लगे। मैं प्रदेश वासियों का बहुत-बहुत आभार करता हूं। स्वरोजगार के क्षेत्र में महिलाओं के उत्थान के लिए और किसानों के लिए जो हमने नए-नए कार्यक्रम किए वो पार्टी द्वारा दी गई जिम्मेदारी के चलते ही कर पाए। पैतृक संपत्ति में खातेदार के रूप में उनकी हिस्सेदारी और घसियारी कल्याण योजना जो पर्वतीय राज्य के लिए काफी महत्वपूर्ण हैं जिनको भी कल दायित्व मिलेगा वहीं का निर्वहन करेंगे, मैं उन्हें शुभकामनाएं देता हूं।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now