हल्द्वानी: मानसिक रूप से परेशान गोरापड़ाव स्थित हरिपुर पूर्णानंद गांव निवासी चंचल सिंह राठौर (50) पुत्र जोगा सिंह राठौर खनन ने खुद को गोली से उड़ा दिया। इस घटना के बाद आसपास के इलाकों में सनसनी फैल गई। वहीं घटना सीसीटीवी पर भी कैद हो गई जो कि रविवार को ही लगाए थे।

suicide

मृतक खनन व्यापारी थे और उसके पास दो डंपर चलते हैं। दोपहर में घर के आंगन से गोली चलने की आवाज सुन परिजन बाहर दौड़े तो चंचल खून से लथपथ जमीन पर पड़े थे। उनकी मौत हो चुकी थी।

परेशान थे चंचल

सूचना पर एसएसआई मनोहर सिंह दसौनी, एसओजी प्रभारी दिनेश पंत, मंडी चौकी प्रभारी राजेन्द्र कुमार मौके पर पहुंचे और परिजनों, पड़ोसियों से जानकारी जुटायी। पूछताछ में पता चला कि चंचल कुछ दिन से परेशान थे। चंचल का बड़ा बेटा गोकुल सेना में, छोटा बेटा दीपक दिल्ली में नौकरी करता है।

suicide

दोनों बेटे इन दिनों छुट्टी पर आये हुये हैं।  वहीं उन्होंने कुछ दिन पहले पत्नी से कहा था कि उनकी जान को किसी से खतरा है और वो 4 लोगों को अकेले ही ठिकाने लगा देंगे। परिजनों ने पुलिस को बताया कि पड़ोस में हुए पूनम हत्याकांड के बाद वो काफी डिप्रेशन में चले गए थे।

सीसीटीवी कैमरे में कैद हुयी घटना

खनन कारोबारी चंचल सिंह का यह आत्मघाती कदम घर के बाहर लगे सीसी कैमरे में कैद हो गया। वीडियो में वह हाथ में अपनी 12 बोर की एकनाली लाइसेंसी बंदूक लेकर कमरे से बाहर निकलते नजर आये। आंगन में पहुंचने के बाद एकाएक उन्होंने बंदूक कनपटी पर सटाकर खुद को गोली से उड़ा लिया। पुलिस ने डीवीआर जब्त कर ली है।

suicide

शुरुआती तौर पर कारोबारी के मानसिक रूप से परेशान होने की बात सामने आयी है। इसी वजह से उन्होंने खुदकुशी की है। घटना कैमरे में कैद हुयी है। परिजनों ने किसी के खिलाफ तहरीर नहीं दी है।