सुनसान गांव को आबाद करने के मिशन पर निकले BJP सांसद अनिल बलूनी

48

हल्द्वानी: उत्तराखण्ड के कई गांव पलायन की मार झेल रहे हैं। पलायन ने राज्य के सैकड़ो गांवों को सुनसान बना दिया है। सरकार इस मार को तोड़ने का प्लान बना रही है लेकिन हालात पिछले कई सालों से बदले नहीं है। अब भाजपा सांसद अनिल बलूनी के कदम ने हजारों लोगों को रोशनी की किरण दी है।भाजपा सांसद अनिल बलूनी ने पौड़ी गढ़वाल जिले के एक ऐसे गांव को फिर आबाद करने की योजना शुरु की है। एक बयान में बलूनी ने कहा कि इन गांवों में बाशिंदों को वापस लाने का कार्यक्रम तैयार किया गया है।

उन्होंने इस सिलसिले में बौर गांव को गोद लिया है। जहां वह बिजली, पानी, सड़क और रोजगार प्रदान करने के लिए काम करेंगे। उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड में प्रवासन की समस्या खतरनाक रूप ले रही है क्योंकि एक के बाद एक गांव खाली हो रहे हैं और राज्य की महान संस्कृति विलुप्त होने के कगार पर है। ऐसे राज्य के लोगों की जिम्मेदारी बनती है कि वो इस स्थिति में देवभूमि का साथ थे। हमारी संस्कृति हम लोग ही बचा सकते हैं।

उन्होंने कहा, ‘‘इन निर्जन गांवों को फिर आबाद करने का यह प्रयास उत्तराखंड को  उज्जवल भविष्य की ओर ले जाता है। बलूनी ने कहा कि जो नौजवान रोजगार के लिए गांव छोड़ने के लिए मजबूर हुए हैं, उन्हें वैकल्पिक रोजगार उपलब्ध कराकर गांवों को फिर से आबाद करने की शुरुआत की जा रही है। उन्होंने कहा कि शहरों में इस गांव के प्रवासियों से चर्चा की जाएगी तथा उनकी मांगों के निराकरण का प्रयास किया जाएगा।