पहाड़ से नशे की जड़ को उखाड़ने के लिए धौलादेवी के बच्चों ने रैली का आयोजन किया

हल्द्वानीः राज्य में नशा इस कदर अपनी पकड़ बना चुका है की युवा वर्ग नशे के इस मायाजाल में फंसता ही चला जा रहा है। आज उत्तराखंड के युवाओं के खुन में नशा इस कदर घुल गया है कि वह युवाओं की जिन्दगी को बरबाद कर दे रहा है। युवा मजे के लिए तो नशा करता है लेकिन उसको नशे की भंयकर लत लग जाती है और उसे इस बात का जरा भी इल्म नहीं होता। राज्य में युवक ही नहीं बल्की युवतीयां भी नशे के इस दलदल में फंसती ही जा रही हैं। यूं तो नशा हर वर्ग के लोगों को अपना शिकार बना रहा है। लेकिन युवा वर्ग इस जाल में सबसे पहले फंसता है और फिर नशे की लत को पूरा करने के लिए किसी भी हद को पार कर देता है। युवा वर्ग नशे की लत को पूरा करने के लिए पहले तो घर के रुपयों को बरबाद करता है। फिर जब घर से रुपयें मिलना बंद हो जातें हैं तो जुर्म की दुनिया में कदम रख देता है।

हर साल की तरह इस साल भी ‘राष्ट्रीय पर्वो’ की पूर्व संध्या पर ग्राम सभा बजेला विकास खंड धौलादेवी मे सभी बच्चो ने ग्रामीणों के साथ एक रैली का आयोजन किया। इसमें वे अपने माता पिता से अनुरोध कर रहे थे कि ‘नशे की बोतल तोड़ दो पाप मेरे पेंसिल ला दो’। नशे के खिलाफ स्लोगन का एक बहुत गहरा मतलब है। बच्चों के इस स्लोगन का उद्देश्य यह था कि “जब बच्चें माता पिता से वो बात कहें जो उन्हें नही कहनी चाहिए तो माता पिता शर्म की वजह से उनकी बात सुनते है , और उनकी कही बात पे अमल करते है “।

ग्रामीण क्षेत्रों मे माता पिता बच्चों की शिक्षा मे उतना ध्यान नही दें पाते जितना उनको देना चाहिए। बच्चे बहुत छोटी छोटी चीजो की वजह से अकादमिक मे पिछड़ जाते है। इनकी मुख्य वजह गरीबी, बेरोजगारी के साथ नशा है। बच्चो ने एक नुक्क्ड़ नाटक”शिक्षा के सरोकार “द्वारा यह बात भी समझाई की एक गंदी आदत होने की वजह से दूसरी गंदी आदत की लत लग जाती है। वहीं गांधी जी ने भी नशे के खिलाफ एक बात बोली थी। उन्होंने कहा था कि ” जो राष्ट्र शराब की आदत का शिकार है, उसके सामने विनाश मुँह बाये खड़ा है।


यह भी पढ़ेंः उत्तराखंडः आदमखोर गुलदार ने झपट्टा मार मां की गोद से छीना बच्चा

यह भी पढ़ेंः हल्द्वानी लाइवः रिजॉर्ट में चल रही थी डांस पार्टी, 13 युवक-युवतियां गिरफ्तार

यह भी पढ़ेंः बारिश ने बिगाड़ा उत्तराखण्ड में विजय हजारे ट्रॉफी का रोमांच, अबतक 7 मुकाबले रद्द

यह भी पढ़ेंः हल्द्वानी में डेंगू मचा रहा कोहराम, डेंगू से महिला की मौत, अस्पताल में तोड़ा दम