देहरादून: शुरू हुआ वनडे क्रिकेट का रोमांच , कल सीजन का आगाज करेगी उत्तराखण्ड

हल्द्वानी:राज्य में क्रिकेट का नया अध्याय शुरू हो गया है। उत्तराखण्ड में विजय हजारे ट्रॉफी का आगाज मंगलवार को हुआ। मान्यता मिलने के बाद पहला मौका है जब राज्य क्रिकेट टूर्नामेंट की मेजबानी कर रहा है। क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखण्ड को प्लेट ग्रुप के मुकाबलो के आयोजन की जिम्मेदारी मिली है। मंगलवार को विजय हजारे ट्रॉफी के तीन मुकाबले देहरादून में शुरू हुए। इन मुकाबलों का आयोजन राजीव गांधी इंटरनेशनल स्टेडियम, तनुष एकेडमी ग्राउंड और अभिमन्यु क्रिकेट एकेडमी में होगा। उत्तराखण्ड क्रिकेट टीम बुधवार को अपने सीजन का आगाज करेगी। टीम का पहला मुकाबला चंडीगढ़ के साथ है जो राजीव गांधी क्रिकेट स्टेडियम में खेला जाएगा।

विजय हजारे के आयोजन को लेकर क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखण्ड भी काफी उत्साहित है। संघ की ओर से मेहमान टीमों के रुकने और प्रैक्टिस को लेकर पूरे इंतजाम किए गए हैं। वहीं आयोजन मैच के लिए उत्तर प्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन (यूपीसीए) के डायरेक्टर राजीव शुक्ला मंगलवार को दून  पहुंचे। संघ के अधिकारियों ने उनका जोरदार स्वागत किया। इस बारे में संघ ( सीएयू) ने अपने अधिकारिक फेसबुक पेज पर भी अपेडट किया।

आज के मुकाबले 

-नागालैंड बनाम मणिपुर, राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम रायपुर 
-मेघालय बनाम सिक्किम, तनुष क्रिकेट ग्राउंड 
-अरुणाचल प्रदेश बनाम मिजोरम, अभिमन्यु क्रिकेट एकेडमी 

कल के मुकाबले 
-उत्तराखंड बनाम चंडीगढ़, राजीव गांधी अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम रायपुर 
 -असम बनाम मिजोरम, तनुष क्रिकेट ग्राउंड 
 -पुडुचेरी बनाम मेघालय, अभिमन्यु क्रिकेट एकेडमी 

फैंस को मिलेगा अच्छी क्रिकेट देखने का मौका

विजय हजारे के आयोजन को लेकर उत्तराखण्ड में क्रिकेट फैंस भी काफी उत्साहित हैं। पिछले लंबे वक्त से फैंस को राज्य में क्रिकेट का इंतजार था। पिछले सीजन रणजी के मुकाबले देहरादून में हुए थे लेकिन इस बार क्रिकेट मैचों की संख्या अधिक होने से राज्य में क्रिकेट को एक नई पहचान मिलेगी।

मजबूत है उत्तराखण्ड की टीम

इस सीजन उत्तराखण्ड की टीम काफी मजबूत है। टीम की कमान उन्मुक्त चंद को दी गई है। वहीं गेस्ट प्लेयर के रूप में तन्मय श्रीवास्तव और शाह के जुड़ने से युवाओं को उनके अनुभव का लाभ मिलेगा। इसके अलावा टीम में कर्नाटका प्रीमियर लीग में खेलने वाले दीक्षांशु नेगी भी शामिल और उनका अनुभव भी टीम की मदद करेगा। पिछले साल उत्तराखण्ड क्रिकेट टीम ने विजय हजारे में लगातार 7 मुकाबले जीते थे। सलामी बल्लेबाज करणवीर कौशल पर भी सभी की नजरे रहेगी। पिछले साल करणवीर कौशल ने विजय हजारे ट्रॉफी का इतिहास ही बदल दिया था। करणवीर कौशल घरेलू क्रिकेट में दोहरा शतक जमाने वाले एकलौते खिलाड़ी हैं। उन्होंने पिछले सीजन सिक्किम के खिलाफ 202 रनों की पारी खेलकर पूरे क्रिकेट जगत की निगाह उत्तराखण्ड क्रिकेट की ओर मोड़ दी थी। इस बार भी टीम और फैंस को कौशल से काफी उम्मीद होगी।

यह भी पढ़ेंः उत्तराखण्ड: पुलिस परेशान, सिर दर्द बनी FIR, लिखने में लगेगा एक हफ्ता

यह भी पढ़ेंः हल्द्वानी लाइवः फिर छाई CPU, पिकअप और पांच लाख रुपये

यह भी पढ़ेंः नैनीतालः बेटी ने की खुदकुशी, लेकिन घरवालों ने बेटी का शव लेने से किया इनकार

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंडः दवा लेकर लौट रही दादी और पोते को ट्रैक्टर ने कुचला, दादी की हुई मौत