सौरभ गांगुली के जैसी कप्तानी करना चाहता है देहरादून का अभिमन्यु

हल्द्वानी: युवा बल्लेबाज अभिमन्यु ईश्वरन (Abhimanyu Easwaran) सुर्खियों में हैं। दलीप ट्रॉफी में इंडिया ग्रीन के खिलाफ 5 दिवसीय फाइनल में 153 रनों की पारी खेलकर उन्होंने सभी का ध्यान अपनी ओर खींचा है। अभिमन्यु अपनी शानदार बल्लेबाजी से टीम इंडिया के दरवाजे पर दस्तक दे रहे हैं। मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो उन्हें टीम इंडिया में बतौर सलामी बल्लेबाज जगह मिल सकती है। फिलहाल 23 वर्षीय अभिमन्यु (Abhimanyu Easwaran) का ध्यान घरेलू क्रिकेट में हैं। साल 2019/ 20 सीजन के लिए उन्हें बंगाल का कप्तान नियुक्त किया गया है।

सौरभ गांगुली की कप्तानी से प्रभावित

कप्तान बनने के बाद अभिमन्यु ने एक निजी वेबसाइट को इंटरव्यू दिया। अभिमन्यु ने कप्तानी के सवाल पर कहा कि वो आक्रमक कप्तान के रूप में अपनी पहचान बनाना चाहते हैं। बंगाल अपने आक्रमक खेल के लिए जानी जाती है। उन्होंने अपने इस कथन को भारत के पूर्व कप्तान सौरभ गांगली से भी जोड़ा। उन्होंने कहा कि आक्रमक क्रिकेट का उदाहरण दादा ने ही देश को दिया। मैं जब भी उनसे मिलता हूं बल्लेबाजी और कप्तानी के बारे में पूछता हूं। उनकी टिप्स काफी मदद करती है। उन्होंने छोटी पारी को बड़े स्कोर में तब्दील करने के बारे में मुझे टिप्स दिए थे। इस मदद के चलते ही मैनें श्रीलंका ए के खिलाफ दोहरा शतक जमाया। उन्होंने कहा कि सीनियर खिलाड़ी से काफी कुछ सीखने को मिलता है। हर टिप्स आपके गेम में सुधार ला सकती है।

राहुल सर जैसी बल्लेबाजी करना चाहता हूं

बंगाल के कप्तान अभिमन्यु ईश्वरन राहुल द्रविड की बल्लेबाजी के कायल है। वो कहते हैं कि काश में है राहुल सर जैसी बल्लेबाजी कर पाऊं। राहुल द्रविड इंडिया ए टीम के कोच रहे हैं। उनके साथ अपनी बल्लेबाजी पर मैंने काफी काम किया। जब राहुल सर जैसा महान बल्लेबाज आपके साथ होता है कि आप काफी कुछ सीख सकते हैं।

इंडिया ए की तरफ से खेलने का अनुभव काफी महत्वपूर्ण

अभिमन्यु इंडिया ए टीम के सदस्य रह चुके हैं। उन्होंने कहा बड़े स्तर में खेलने से आपको काफी फायदा मिलता है। आप परिस्थितियों के हिसाब से अपने गेम के बदलना सीखते हैं। यह आपको अलग-अलग कंडिशन में बल्लेबाजी करना सीखता है। अभिमन्यु न्यूजीलैंड ए, श्रीलंका ए और वेस्टइंडीज ए के खिलाफ सीरीज में टीम इंडिया का हिस्सा रहे थे। श्रीलंका के मई में खिलाफ उन्होंने 233 रनों की पारी खेलकर बताया कि वो भारतीय टीम में खेलने का माद्दा रखते हैं।

अभिमन्यु का क्रिकेट करियर

अभिमन्यु देहरादून में गुनियाल गांव स्थित अभिमन्यु क्रिकेट एकेडमी के संचालक आरपी ईश्वरन के बेटे हैं। पिछले साल घरेलू क्रिकेट में उनका प्रदर्शन शानदार रहा था। उन्होंने 6 मैचों में 861 रन बनाए थे। अभिमन्यु को घरेलू क्रिकेट का खासा अनुभव है। उन्होंने अब तक 112 मैच खेले हैं।( वनडे,रणजी और टी-20) अभिमन्यु के बल्ले से घरेलू क्रिकेट में 18 शतक और 33 फिफ्टी निकल चुकी है। 24 साल के अभिमन्यु ने साल 2013 में डेब्यू किया था।

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंडः शादी का झांसा देकर फौजी ने युवती से किया दुष्कर्म
उत्तराखंडः पत्नी के साथ चल रहे विवाद में पति ने उठा डाला यह खौफनाक कदम

ह भी पढ़ेंः देवभूमि की बेटियों के लिए सुनहरा अवसर, 14 सितंबर को सेना भर्ती रैली

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंड चौकाने वाला मामला, हत्या की आशंका पर कब्र से निकाला बच्ची का शव

यह भी पढ़ेंः हॉस्पिटल की व्यवस्थाओं ने बिगाड़ा डीएम बंसल का मूड, डॉक्टर का काटा वेतन