लोकसभा चुनाव के पहले और दूसरे चरण के लिए मतदान सफलतापूर्वक पूर्ण हो चुके हैं ।और आगामी 23 अप्रैल को असम(4) ,बिहार(5) छत्तिसगड़(7),गुजरात(26),गोआ(2),जम्मू कश्मीर(1),कर्नाटका(14),केरला(20),महाराष्ट्रा(14),उड़ीसा(6),उत्तरप्रदेश(10),पश्चिम बंगाल(5) ,दादरा ऐंड नागर हवेली(1),और दमन ऐंड दिउ(1) आदि राज्यों के लिए तीसरे चरण में मतदान होंगे । इन राज्यों में चुनाव प्रचार ने भी खासी गर्मी पकड़ ली है।लोकसभा चुनाव प्रचार के लिए उत्तराखंड से भी भाजपा नेता दूसरे राज्यों में भेजे जा रहे हैं ।इसी क्रम में हल्द्वानी से मेयर डॉ जोगेंद्र सिंह रौतेला व कुमाऊं मीडिया प्रभारी तरूण बंसल को चुनाव प्रचार पश्चिम बंगाल भेजा गया है।

पश्चिम बंगाल भारत के पूर्वी भाग में स्थित महत्वपूर्ण राज्य है। उत्तर प्रदेश के बाद वहां सबसे ज्यादा मात्रा में सीट हैं। तरूण बंसल ने बताया कि वह 20 अप्रैल को पश्चिम बंगाल रवाना होंगे ।वे वहां पर भाजपा का झंडा बुलंद करने जा रहे हैं। देश में मोदी की जबरदस्त लहर है।जोगेंद्र सिंह रौतेला भाजपा के समर्थन में पार्टी द्वारा दिये हर आदेश का पालन करने के लिए सजग हैं। उनकी पूरी कोशिश रहेगी की वे प्रचार का अपना दायित्व सफल कर पायें ।और उन्हें उम्मीद है कि अन्य राज्यों की तरह पश्चिम बंगाल में भी भाजपा ज्यादा से ज्यादा सीटों में जीत हासिल करेगी।

बात रही जोगेंद्र सिंह रौतेला की तो इस बार के निकाय चुनाव में जोगेंद्र रौतेला (भाजपा) ने 64793 मतों के साथ लगातार दूसरी बार जीत पाकर पार्टी के भीतर की पकड़ को भी मजबूत किया है। रौतेला ने पिछले चुनाव में निकाय चुनाव के 62 साल के इतिहास में पहली बार भाजपा को जीत दिलायी थी।वर्तमान मेयर डॉ. जोगेंद्रपाल सिंह रौतेला ने  विधानसभा चुनाव में तत्कालीन वित्त मंत्री और मौजूदा मजबूत नेता प्रतिपक्ष डॉ. इंदिरा हृदयेश को कड़ी टक्कर दी थी। मेयर के लिये टिकट की दावेदारी में इस बात से भी बल मिला। इससे पूर्व वर्ष 2008 के पालिका चुनाव में वह सबसे अधिक अंतर से जीतने वाले सभासद बने। इसके अलावा लगातार 15 साल तक वह नगर पालिका में सभासद भी चुने गये। और इस बार भी कुमाऊं के तीनों निगमों में कमल, खिला हल्द्वानी से डॉ. रौतेला की लगातार दूसरी जीत ने भाजपा में उनका कद काफी ऊंचा कर दिया है।