उत्तराखंड: दूसरी बार मास्क ना पहनने पर पड़ेगा ₹500 जुर्माना, पहली बार में मात्र ₹200

राज्य में बढ़ते कोरोना वायरस के मामले देखते हुए त्रिवेंद्र रावत सरकार ने लिया फैसला

उत्तराखंड में कोरोना के मामले लगातार बढ़ रहे हैं। शनिवार को ही रिकॉर्ड 501 कोरोना संक्रमण के मामले सामने आए । महामारी को काबू में करने के लिए त्रिवेंद्र रावत सरकार लगातार सख्त रुख अपना रही है । शनिवार को उत्तराखंड सरकार ने एक आदेश जारी किया है, जिससे सार्वजनिक जगहों पर मास्क ना पहनने से पहली बार में आप पर ₹200 जुर्माना लगाया जाएगा। अगर आप दूसरी बार मास्क नहीं पहने हुए पकड़े गए तो आपको ₹500 जुर्माना देना होगा ।


गुनहगारों को बांटे जाएंगे 4 वॉशेबल मास्क

इसके साथ ही सरकार ने तय किया है की जिन पर मास्क ना पहनने पर जुर्माना लगेगा या जो बिना मास्क पहने हुए पकड़े जाएंगे, उन्हें जुर्माना देने के बाद चार मास्क भी बांटे जाएंगे। यह मास्क वॉशेबल होंगे और संभावना है कि ड्यूरेबल भी। यह तो सरकार जाने।

यह भी पढ़ें: कोरोनिल के लिये पतंजलि पर 10 लाख का जुर्माना, कोर्ट ने कहा लोगों को डराना बंद करें


आशा वर्कर्स के खाते में ₹2000

कोरोना काल की समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री ने यह भी फैसला लिया की आशा कार्यकर्ताओं के अकाउंट में ₹2000 भेजे जाएंगे। इन रुपयों में ₹1000 सम्मान निधि के तौर पर और ₹1000 रक्षाबंधन के उपलक्ष में वितरित किए जाएंगे। साथ ही मुख्यमंत्री ने यह भी फैसला लिया कि अगर किसी कोरोना वारियर की मृत्यु होती है तो उसके परिवार जनों को ₹10 लाख की राशि दी जाएगी। यह ₹10 लाख मुख्यमंत्री राहत कोष से दिए जाएंगे।

सचिवालय में हुई इस बैठक में मुख्य सचिव ने सभी जिला अधिकारियों को आदेश दिया है कि वह कोरोना के टेस्ट तेजी से करवाएं और सुनिश्चित करें कि रिपोर्ट जल्द से जल्द आए। उन्होंने कहा कि जिन जिलों में ज्यादा मामले आ रहे हैं, उनमें यह काम और गति से और तेज गति से होना चाहिए। गौरतलब है कि उधम सिंह नगर हरिद्वार और नैनीताल में कोरोना संक्रमण के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now