Video:इस बार पत्रकार का लेख नहीं उसका पहाड़ी गाना हुआ वायरल

256

हल्द्वानी: पत्रकार को आपने न्यूज कवर करते हुए देखा होगा। पत्रकार अपनी कलम से लोगों के हक के बारे में लिखता आया है। उसकी कलम में समाज सुधार और उसे नए मार्ग पर ले जाने की ताकत होती है। इस बार एक पत्रकार सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस बार वायरल हो अपनी कलम के लिए नहीं बल्कि अपने गाने के लिए हो रहे है।

हल्द्वानी में स्थित हिन्दुस्तान न्यूज पेपर में कार्यकृत देवेंद्र बिष्ट द्वारा पहाड़ी भाषा में गाया गाने सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। देवेंद्र के गाने को हजारों लोग देख चुके है। जो गीत देवेंद्र गा रहे है वो जीजा साली के बीच का संवाद है। जिसमें साली अपने जीजा से कह रही है कि पहाड़ों पर धूप आ गई है, कृपया आप मेरी धमेली (चोटी) को छोड़ दीजिए, इस पर जीजा साली से कहता है कि पहाड़ों पर धूप ही क्या बरसात भी आ जायेगी तो मैं तब भी तेरी धमेली (चोटी) नहीं छोडूंगा। साली साहिबा अपनी मम्मी, पापा, तथा भाई बहनों की डांठ का हवाला भी दे रही है, लेकिन जीजा मानने को तैयार नही है। (झोड़ा)

देवेंद्र ने बताया कि घुघुतिया त्योहार आ रहा है इसे देखते हुए उन्होंने इस गाने को अपने स्वर दिए। उन्होंने कहा कि हमारी भाषा ही बाहर नौकरी और रह रहे राज्य के लोगों को एक दूसरे से जुड़े रखेगी। पहाड़ की संस्कृति देश-विदेश में विख्यात है लेकिन हम ही इससे दूर हो रहे है। उन्होंने कहा कि मैंने तभी ये गाना अपने गांव कौंता में गाया।

लगातार देखा जा रहा है कि पहाड़ी भाषा को बढ़ावा देने के लिए पत्रकारों द्वारा पोस्ट डाले जाते है। युवाओं को भाषा के करीब लाने के प्रयास जारी है। इस क्रम में कई युवाओं के गाने भी सामने आए है जो सोशल मीडिया पर वायरल हो जाते है। जिन्हें देश और विदेशों में खूब शेयर किया जाता है।

वीडियो देखने के लिए अगली स्लाइड पर जाए