विदेशों में रौशन हो रहा है उत्तराखंड का नाम,टिहरी का विकास जापान में चला रहा है 5 रेस्ट्रो

नई टिहरी: जिन्होंने कुछ नया करने के सपने देखें होते हैं और उसके लिए परिश्रम करते हैं, उन्हें कामयाबी जरूर मिलती है। कहते हैं ना आधा काम नियत कर दे देती है। ऐसी ही कहानी उत्तराखंड नई टिहरी बूढ़ाकेदार निवासी विकास सेमवाल की, जिन्होंने कुछ नया करने के लिए गांव छोड़ा था और आज जापान में वह बड़े कारोबारियों में शामिल हैं। उत्तराखंड के युवा पहाड़ से निकलकर देवभूमि का नाम विदेशों में रौशन कर रहे हैं और यह पूरे राज्य के लिए गर्व की बात है। इस तरह की कहनी करोड़ों युवाओं को प्रेरित करेगी।

विकास जापान के ओसाका शहर में जेजीकेपी (जय गुरु कैलापीर) नाम से रेस्ट्रो चलाते हैं। उनके कुल पांच रेस्ट्रों हैं। यह नाम पूरे जापान में विख्यात है। विदेश पहुंचने के बाद भी विकास ने पहाड़ से नाता नहीं तोड़ा, वह पहाड़ के लोगों को रोजगार देने में मदद भी करते हैं। जिले के 10 लोगों को अपने साथ काम पर रख चुके हैं।

यह भी पढ़े:चंपावत के पवन भट्ट की ईमानदारी को सलाम,सड़क पर मिले लाखों रुपए मालिक तक पहुंचाए

यह भी पढ़े:उत्तराखंड में होगा एक्सप्रेस वे का निर्माण,केवल ढाई घंटे में पूरा होगा देहरादून से दिल्ली का सफर

विकास सिर्फ 42 साल के हैं। साल 2009 में मेरठ से कंप्यूटर साइंस से बीटेक किया। उसके बाद वह रोजगार के लिए जापान चले गए और वहां एक कंसलटेंसी में बतौर कंप्यूटर इंजीनियर नौकरी की। साल 2011 के बीच में वैश्विक मंदी के चलते विकास की नौकरी चले गई। इसके बाद उन्होंने जापान में ही अपना काम शुरू करने का फैसला किया। इसके बाद उन्होंने पीछे मुड़कर नहीं देखा।

साल 2013 में उन्होंने पहला खोला और अगले ही साल में वह अपने परिवार को जापान ले गए। विकास की गुरू कैलापीर देवता पर अटूट श्रद्धा है। वह कहते हैं कि नौकरी जाने के बाद भी ईष्ट ने उन्हें हिम्मत दी और तभी वह अपना काम शुरू कर पाए।

विकास की गिनती जापान की सफल कारोबारी में गिनी जाती हैं और सब से बेहद खुशी की बात यह है कि जापान में रहने के बावजूद भी विकास पहाड़ से जुड़े जुड़े रहते हैं और साथ में ही वह अपने क्षेत्र के लोगों को रोजगार से जुड़ने के लिए प्रयास करते रहते हैं। वह व्यापार हेतु मंत्र देने के लिए अपने गांव के लोगों को जापान बुलाते हैं।

यह भी पढ़े:उत्तराखंड वैक्सीनेशन के लिए तैयार, राज्य भर में बनाए गए हैं 400 बूथ, हल्द्वानी भी लिस्ट में शामिल

यह भी पढ़े:उत्तराखंड की बहादुर बेटी, बच्चे का अपहरण कर रहे बदमाशों से भिड़ गई 10 साल की अग्रिमा

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now